समाचार प्लस
Breaking देश फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर राजनीति

राजस्थान में सत्ता संतुलन का प्रयास : Gehlot Cabinet में आज फेरबदल, 15 नए मंत्री लेंगे शपथ

Gehlot Cabinet कैबिनेट में आज फेरबदल

न्यूज़ डेस्क/ समाचार प्लस झारखंड- बिहार
राजस्‍थान सरकार का नया मंत्रिमंडल आज शपथ ग्रहण करेगा. राजस्‍थान के मुख्‍यमंत्री अशोक गहलोत(Gehlot Cabinet)  ने अपने मंत्रिमंडल के सभी सदस्‍यों के इस्‍तीफे ले लिए हैं. माना जा रहा है कि सीएम अशोक गहलोत के नेतृत्‍व वाले नए मंत्रिमंडल में सचिन पायलट के पांच समर्थक भी शामिल होंगे. कांग्रेस आलाकमान के साथ कई दौर की लंबी बातचीत के बाद से ही नए मंत्रिमंडल की जमीन तैयार होने लगी थी. अशोक गहलोत ने इसके लिए कांग्रेस अध्‍यक्ष सोनिया गांधी सहित अन्‍य वरिष्‍ठ पार्टी नेताओं से मुलाकात की थी. माना जा रहा है कि नए मंत्रिमंडल में 30 मंत्री होंगे, जिनमें 15 नए चेहरे और चार को राज्‍यमंत्री बनाया जा सकता है.

इन पांच विधायकों को मंत्री बनाया जा सकता है

पूर्व उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट के प्रति वफादार माने जाने वाले पांच विधायकों को मंत्री बनाया जा सकता है. इनमें हेमाराम चौधरी, विश्वेंद्र सिंह और रमेश मीणा कैबिनेट मंत्री के रूप में शपथ ले सकते हैं. वहीं बृजेंद्र ओला और मुरारी लाल मीणा को राज्यमंत्री के रूप में शपथ दिलाई जा सकती है.

विश्वेंद्र सिंह और सपोटरा से विधायक रमेश मीणा वापसी कर सकते हैं

डीग-कुम्हेर से दो बार के विधायक विश्वेंद्र सिंह और सपोटरा से विधायक रमेश मीणा को पिछले साल जुलाई में मुख्यमंत्री गहलोत ने सचिन पायलट के साथ बर्खास्त कर दिया था. यह दोनों वापसी कर सकते हैं. विश्‍वेंद्र सिंह को पर्यटन और देवस्थान मंत्रालयों का जिम्‍मा सौंपा गया था और मीणा के पास खाद्य और उपभोक्ता मामलों की जिम्‍मेदारी थी. जबकि हेमाराम चौधरी गुडामलानी से छह बार के विधायक और पूर्व राजस्व मंत्री हैं.

ये होंगे नए चेहरे 

अन्य नए चेहरों में महेंद्रजीत सिंह मालवीय, रामलाल जाट, महेश जोशी, ममता भूपेश, टीकाराम जूली, भजन लाल जाटव, गोविंद राम मेघवाल और शकुंतला रावत हो सकते हैं, जबकि जाहिदा खान और राजेंद्र सिंह गुढ़ा को राज्यमंत्री बनाया जा सकता है.

पायलट के आधा दर्जन समर्थकों के मंत्रिमंडल में शामिल होने की संभावना 

राजस्‍थान में नए मंत्रिमंडल की भूमिका दिल्ली में कांग्रेस नेता सचिन पायलट और वरिष्ठ नेताओं के बीच कई दौर की बैठकों के साथ ही लिखी जाने लगी थी. अशोक गहलोत ने कांग्रेस प्रमुख सोनिया गांधी सहित पार्टी नेताओं से भी मुलाकात की थी. पायलट के आधा दर्जन समर्थकों के मंत्रिमंडल में शामिल होने की संभावना है और उन्हें खुद राजस्थान के बाहर पार्टी में बड़ी भूमिका दी जा सकती है. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और पार्टी के वरिष्ठ नेताओं के बीच बैठक हुई थी. सूत्रों के मुताबिक, प्रियंका गांधी पिछले हफ्ते एक बैठक में मौजूद थीं. उसी बैठक में कैबिनेट में फेरबदल और राजनीतिक नियुक्तियों का मुद्दा एजेंडे में था.

दलित समाज के चार कैबिनेट मंत्री बनाए गए हैं, हमारे लिए बहुत अच्छी बात है-पायलट 

पायलट ने कहा कि दलित समाज के चार कैबिनेट मंत्री बनाए गए हैं जोकि हमारे लिए बहुत अच्छी बात है. आदिवासी भाई बहनों को उचित प्रतिनिधित्व मिला है यह लोग हमारे साथ रहे हैं. जो तबका हमेशा से हमारे साथ रहा है उसको उसका हिस्सा देने का काम किया गया है. उन्होंने बताया कि नया मंत्रिमंडल सभी लोगों से चर्चा और मंजूरी मिलने के बाद बना है. उन्होंने कहा कि दिल्ली और राजस्थान के नेताओं ने मिलकर नया मंत्रिमंडल तैयार किया है.
ये भी पढ़ें : Jharkhand News : झारखंड को बिहार की भाषाओं से परहेज, JTET परीक्षा से हटाई जाएंगी ये भाषाएं

Related posts

Pakistan: सौदेबाजियों में लगे हैं इमरान खान, कुर्सी बचाने के लिए पंजाब के CM को बना दिया बलि का बकरा!

Pramod Kumar

36 National Games: 27 सितम्बर से 10 अक्टूबर तक गुजरात में होंगे राष्ट्रीय खेल, गुजरात सीएम ने ट्वीट कर जतायी खुशी

Pramod Kumar

Entertainment: रजनीकांत की ‘अन्नाथे’ को अजित कुमार की ’वलिमै’ ने पीछे छोड़ा, 2 दिनों में 100 करोड़

Pramod Kumar