समाचार प्लस
Breaking झारखण्ड फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर बिहार

ED ने IPS अधिकारी Priya Dubey और उनके पति की संपत्ति को किया अटैच, 8 साल पुराने मामले में की कार्रवाई

Priya Dubey

न्यूज़ डेस्क/ समाचार प्लस झारखंड- बिहार
ईडी (ED) ने कार्रवाई करते हुए IPS प्रिया दुबे और उनके पति की संपत्ति जब्त कर ली है। झारखंड कैडर की आईपीएस अधिकारी और फिलहाल झारखंड पुलिस की आईजी प्रशिक्षण प्रिया दुबे (Priya Dubey) और उनके पति आरपीएफ डीआईजी संतोष कुमार दुबे के खिलाफ ईडी ने बड़ी करवाई की है। उनकी रांची और दिल्ली में 1.46 करोड़ की अचल संपत्ति ईडी ने जब्त कर ली है। संतोष कुमार दूबे आरपीएफ में डीआईजी के पद पर हैं। ईडी ने सीबीआई में प्रिवेंशन ऑफ करप्शन एक्ट के तहत दर्ज केस के आधार पर कार्रवाई करते हुए अलग से मनी लाउंड्रिंग के मामले की जांच करते हुए, कार्रवाई की है।

ईडी के अधिकारियों के मुताबिक, ईडी ने संतोष कुमार दूबे, प्रिया दूबे व अन्य के नाम पर खरीदी गई संपत्ति जब्त की है। ईडी ने अशोकनगर में 30 लाख में खरीदी गई एक भूखंड, दिल्ली के डिफेंस कॉलोनी में 3 कमर्शियल शॉप व एक फ्लैट जिसकी कीमत 72 लाख 40 हजार आंकी गई है को जब्त किया है। वहीं रांची में भी 43,85,400 रुपये में ग्रीन व्यू हाइट्स में खरीदी गई फ्लैट को भी जब्त किया है।

क्या है मामला

ईडी के अधिकारियों के मुताबिक, सीबीआई ने 10 जुलाई 2013 को आरपीएफ के तत्कालीन कमांडेंट संतोष कुमार दूबे व अन्य के खिलाफ एफआईआर दर्ज किया था। सीबीआई ने प्रिया दूबे व संतोष कुमार दूबे के द्वारा साल 1998 से 2013 के बीच अर्जित सैलरी व अन्य स्रोतों से होने वाले आय की जानकारी जुटायी थी।

मनी लाउंड्रिंग की धाराओं के तहत केस दर्ज था

जांच में यह बात आयी थी कि अपने ज्ञात स्रोत से 1 करोड़ 57 लाख 27 हजार की आय दोनों ने की थी, लेकिन उनके पास से 2.65 करोड़ की संपत्ति मिली। सीबीआई ने पाया था कि दोनों पदाधिकारियों ने पद पर रहते हुए अपने आय से 1.48 करोड़ अधिक की कमायी की। सीबीआई ने जांच में पाया था कि भ्रष्ट व गलत तरीकों से यह आमदनी की गई है। सीबीआई की जांच में आए तथ्यों के आधार पर सीबीआई ने इस मामले में मनी लाउंड्रिंग की धाराओं के तहत केस दर्ज किया था।

पत्नी व पिता के नाम पर की थी खरीद

ईडी के अधिकारियों के मुताबिक, जांच में यह बात सामने आयी है कि संतोष कुमार दूबे ने अपनी पत्नी प्रिया दूबे और पिता स्व शंकर दयाल दूबे के नाम पर अधिकांश अचल संपत्ति की खरीद की थी। अवैध तरीके से अर्जित संपत्ति को भी गलत तरीके से अपनी आय के स्रोत के तौर पर बताया गया है। ईडी के अधिकारियों के मुताबिक, इस संबंध में आगे की जांच चल रही है।

ये भी पढ़ें :  ‘बसपन का प्यार’ फेम Sahdev Dirdo की सेहत में सुधार, एक्सीडेंट के कई घंटों बाद आया होश, खतरे से बाहर

 

Related posts

PM in Punjab: अपने सीएम से थैंक्स कहना बठिंडा एयरपोर्ट जिंदा लौट पाया – प्रधानमंत्री मोदी

Pramod Kumar

JSLPS Workshop : ‘बनाए जाएंगे डायन कुप्रथा मुक्त पंचायत, पीड़ित महिलाओं के पुनर्वास पर भी होगा काम’

Manoj Singh

India ने Ladakh में बनाई दुनिया की सबसे ऊंची सड़क, LAC के है बेहद नजदीक

Sumeet Roy