समाचार प्लस
Breaking देश फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर

MBBS डॉक्टर मनोज मित्तल ने गिनाये गोबर खाने के फायदे, वर्षों से कर रहे गोमूत्र- गो गोबर का सेवन

Dr.Manoj Mittal

न्यूज डेस्क/ समाचार प्लस – झारखंड-बिहार

करनाल के एक डॉक्टर मनोज मित्तल का गो गोबर खाते हुए एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल है। इस वीडियो में डॉक्टर मनोज मित्तल गोमूत्र और गो गोबर का सेवन करते दिख रहे हैं। MBBS डॉक्टर मनोज मित्तल बीते कई वर्षों से गोमूत्र पी रहे हैं और गो गोबर खा रहे हैं। उनके ऐसा करने का अपना तर्क भी है। डॉक्टर मनोज मित्तल हरियाणा करनाल में चाइल्ड स्पेशलिस्ट डॉक्टर हैं और उनका करनाल में अपना बड़ा अस्पताल में है.

क्या है डॉक्टर मनोज मित्तल का तर्क?

डॉक्टर मनोज मित्तल का तर्क है कि गो गोबर में पर्याप्त मात्रा में विटामिन बी 12 होता है, जो हमें रेडिएशन से बचाता है। आज हमारे आस-पास मोबाइल, एसी, फ्रिज तथा रेडिएशन फैलाने वाली अन्य चीजें हैं। इनसे कैंसर जैसी बीमारी का खतरा है, किन्तु गो गोबर का सेवन रेडिएशन के प्रभाव को कम करता है। डॉक्टर मनोज मित्तल का तो यह भी कहना है कि अगर गर्भवती महिला डिलीवरी के वक्त गो गोबर का रस ले, तो डिलीवरी नॉर्मल होने की संभावना बढ़ जाती है। यही नहीं, गाय के गोबर से कई बीमारियों को ठीक भी किया जा सकता है।

कई लोग डॉक्टर मनोज की डिग्री पर उठा रहे सवाल

डॉक्टर मनोज मित्तल का दावा है कि वह फर्श पर सोते हैं और उन्होंने कभी भी पंखा या AC का इस्तेमाल नहीं किया। डॉक्टर मित्तल का कहना है कि गाय के गोबर में 28 फीसद ऑक्सीजन मौजूद होती है जो कि आपकी सेहत के लिए सही रहती है। यह वीडियो वायरल होने पर लोग कई तरह के प्रतिक्रिया दे रहे हैं। इनमें कई लोग डॉक्टर मनोज मित्तल की डिग्री पर सवाल खड़े कर रहे हैं। पर कई लोग डॉक्टर मित्तल की बात से सहमत भी हैं।

गाय को लेकर ध्यान देने लायक तथ्य

गाय को लेकर कई तरह के तथ्य यदा-कदा सामने आते रहते हैं। जिन पर उनके सही होने को लेकर विवाद चलता रहता है। लेकिन दुनिया के कई वैज्ञानिक भी गाय के महत्व को सीधे-सीधे नही नकार पाते हैं। प्रस्तुत हैं ऐसे ही कुछ तथ्य-

  • जर्सी नस्ल की गाय का दूध पीने से 30 प्रतिशत तक कैंसर बढ़ने की संभावना है। – नेशनल कैंसर इंस्टीट्यूट ऑफ अमेरिका
  • गाय अपने सींग के माध्यम से कॉस्मिक पावर ग्रहण करती है। – रूडल स्टेनर,जर्मन वैज्ञाानिक
  • गोबर की खाद की जगह रासायनिक खाद का उपयोग करने के कारण महिलाओं का दूध दिन प्रतिदिन विषैला होता जा रहा है। – डॉ. विजयलक्ष्मी, सेंटर फॉर इंडियन नालेज सिस्टम
  • गोमूत्र के उपयोग से हृदय रोग दूर होता है तथा पेशाब खुलकर होता है। कुछ दिन तक गोमूत्र सेवन करने से धमनियों में रक्त का दबाव स्वाभाविक होने लगता है। गोमूत्र सेवन से भूख बढ़ती है। यह पुराने चर्म रोग की उत्तम औषधि है। – डा. काफोड हैमिल्टन, ब्रिटेन
  • गोमूत्र रक्त में बहने वाले दूषित कीटाणुओं का नाश करता है। – डॉ. सिमर्स, ब्रिटेन
  • विश्व में केवल देशी गाय ही ऐसा दिव्य प्राणी है जो अपनी स्वास में ऑक्सीजन छोड़ती है। – कृषि वैज्ञानिक डॉ. जूलियस व डॉ. बुक, जर्मन
  • शहरों से निकलने वाले कचरे पर गोबर के घोल को डालने से दुर्गंध पैदा नहीं होती है। कचरा खाद के रूप में परिवर्तित हो जाता है। – डा. कांतिसेन सर्राफ, मुंबई
  • गाय के दूध में विद्यमान तत्व मस्तिष्क और स्मरण शक्ति के विकास में सहायक होता है। एमडीजीआई प्रोटीन के कारण रक्त कोशिकाओं में कैंसर प्रवेश नहीं कर सकता है। – प्रो. रोनाल्ड गौ रायटे, कारनेल विश्वविद्यालय
  • समस्त दुधारू प्राणियों में गाय ही एक ऐसा प्राणी है, जिसकी बड़ी आंत 180 फीट लंबी होती है। इसकी विशेषता यह है कि जो चारा ग्रहण करती है, उससे दुग्ध में केरोटिन नामक पदार्थ बनता है। यह मानव शरीर में पहुंचकर विटामिन-ए तैयार करता है, जो नेत्र ज्योति के लिए आवश्यक है।
  • देशी गाय के गोबर में हैजे के कीटाणुओं को समाप्त करने की अद्भुत क्षमता होती है। – डॉ. किंग, मद्रास

यह भी पढ़ें: Bloomberg Report: अमेरिका नहीं, चीन है अब दुनिया का सबसे अमीर देश

Related posts

चारा घोटाला मामले में सजायाफ्ता पूर्व सांसद डॉ. आर के राणा का निधन

Manoj Singh

Jharkhand: आचार संहिता उल्लंघन मामले में CM हेमंत सशरीर हाजिर हों, राहत देने से कोर्ट का इनकार

Pramod Kumar

Petrol Price Update: कम होगी पेट्रोल की कीमत ! रूस-यूक्रेन युद्ध के बीच सरकार ले सकती है ये बड़ा फैसला

Manoj Singh