समाचार प्लस
Breaking अपराध फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर

दानापुर के JDU नेता की हत्या मामले में SSP का बड़ा खुलासा, सच्चाई जान रह जाएंगे दंग

Danapur News: जमीन मामले में दानापुर जदयू नेता एवं नगर परिषद उपाध्यक्ष दीपक मेहता की हत्या हुई थी जिसपर एसएसपी ने एक बड़ा खुलासा किया है।

दानापुर में दीपक मेहता 28 मार्च

को रात्रि करीब 9.30 बजे दानापुर नासरीगंज पुलिस चौकी के समीप घर के पास उस वक्त गोली मारी जब वह आपने घर के पास हाइवे से बालू गिरवा रहे थे तब ही मोटरसाईकिल सवार तीन से चार अज्ञात हथियारबंद अपराधियों द्वारा दीपक मेहता की गोली मारकर हत्या कर दी गयी थी। हत्याकांड दानापुर का खुलासा पटना एसएसपी मानवजीत सिंह ढिल्लो ने बताया कि चार अपराधी देशी कटा एवं जिन्दा कारतूस के साथ गिरफ्तार किया गया घटना में प्रयुक्त बाईक भी किया गया बरामद।जमीनी विवाद में घटना को दिया गया था अंजाम।पटना के नेतृत्व में कांड के उद्भेदन एवं अपराधियों की गिरफ्तारी हेतु एक विशेष टीम का गठन किया गया जिसमें सहायक पुलिस अधीक्षक , दानापुर , थानाध्यक्ष रूपसपुर , दानापुर , खगौल शाहपुर , दीघा , एस आई यु एवं 100 डॉयल को शामिल किया गया।टीम द्वारा तत्काल आसूचना संकलन का कार्य प्रारंभ किया गया।

52 कट्ठा एवं 29 कट्ठे जमीन मामले में हुआ हत्या

अपराधी आर्म्स एक्ट दर्ज किया गया किया गया साथ ही जेल से छूटे पुराने अपराधियों एवं सीमावर्ती जिला के अपराधियों की गतिविधियों के संबंध में भी जानकारी एकत्र की जाने लगी । घटनास्थल के आस – पास के सीसीटीमी फुटैजेज का भी अवलोकन किया जा रहा था । मृतक के परिजनों , करीबीयों , उनके कर्मचारियों एवं घटनास्थल के आस – पास के लोगों से भी लगातार पुछ – ताछ की जा रही थी । इसी क्रम में पता चला कि दीपक मेहता राजनीति के साथ जमीन के कारोबार से भी जुड़े हुए व्यक्ति थे।मृतक के परिजनों , करीबीयों , उनके कर्मचारियों एवं घटनास्थल के आसपास के लोगों से भी लगातार पुछताछ की जा रही थी ।

इसी क्रम में पता चला कि दीपक मेहता राजनीति के साथ जमीन के कारोबार से भी जुड़े हुए व्यक्ति थे । इनका पटना में कई क्षेत्रों में जमीन का कय विक्रय का कारोबार था । इसी क्रम में दो विवादित प्लॉट्स पर जिसमें पहला प्लॉट करीब 52 कट्ठा का है , जो की बिस्कुट फैक्ट्री मोड़ न्यु मिथिला कॉलोनी दानापुर में एवं दूसरा जो करीब 29 कट्ठे का है , जो वनसती मंदिर दीघा नहर रामजी चक दीघा के पास अवस्थित है , पर मृतक दीपक मेहता का कुछ पेशेवर अपराधियों से विगत एक – दो वर्षों से विवाद चल रहा था ।

29 कट्ठे के विवादित प्लॉट को लेकर पूर्व में दीघा थाना कांड मामला दर्ज भी कराया गया आर्म्स एक्ट जिसमे उमेश कुमार बुद्धा कॉलोनी वादी है एवं दीघा थाना कांड संख्या जिसमें देवानंद थाना पाटलीपुत्रा वादी हैं । दोनों कांडों में मृतक दीपक मेहता को अभियुक्त बनाया गया है। वैज्ञानिक एवं तकनिकी विशलेषण एवं सामान्ततर चल रहे आसूचना संकलन के आधार पर पता चला कि इस कांड में दीघा थानाक्षेत्र का जेल से छूटे रवि गोप ने कुछ अन्य पेशेवर अपराधियों के साथ मिलकर संयुक्त रूप से इस घटना को अंजाम दिया है ।

तत्काल इस संदर्भ में आसूचना संकलन कार्य प्रारंभ किया गया इसी क्रम में रवि के गिरोह का एक अपराधी राजू राय जो रवि का अपना बड़ा भाई भी है , को छापामारी कर पकड़ा गया । सघन पुछ – ताछ के कम में इसने खुलासा किया की यह घटना विवादित जमीन के कब्जे को लेकर ही की गई है । 29 कट्ठे वाले प्लॉट पर रवि को एवं 52 कट्ठे वाले प्लॉट पर उमेश कुमार उर्फ उमेश राय कुर्जी थाना दीघा को दीपक मेहता के कारण ही रूकावट आ रही थी । इसी कारण हमने उमेश राय के साथ मिलकर घटना को अंजाम दिलवाया।

अपराधी की पहचान

राजू कुमार रामजीचक बाटा का रहने वाला है पहले से मालसलामी थाना में अपराधी मामला दर्ज है। राजकुमार साहनी और बालक बकुआचकदह घोसवारी के रहने वाला दानापुर थाना आर्म्स एक्ट में अपराधिक मामला दर्ज है। मनोज कुमार मैनपुरा का रहने वाला श्रीकृष्ण पुरी थाना में इसका अपराधिक मामला दर्ज है। मोहम्मद हुसैन दूसरा थाना बुद्धा कॉलोनी के रहने वाला आर्म्स एक्ट दानापुर कांड में संलिप्त है। इन के पास से दो देशी कट्टा और चार जिंदा कारतूस साथ में हत्या की गई चोरी के एक बाइक बरामद किया गया है।

इसे भी पढ़ें : डीप नेक ड्रेस में नोरा फतेही ने फिर फ्लॉन्ट किया अपना ये तिल, देखते ही लोगों के उड़े होश

Related posts

किसने बढ़ाया झारखंड का राजनीतिक पारा : क्या CM Hemant की सरकार सचमुच खतरे में?

Annu Mahli

जारी हुई UGC NET परीक्षा की तारीख, दिसंबर और जून सत्र की परीक्षा एक साथ

Manoj Singh

जानिए 1971 के युद्ध में पाकिस्तान के ख़िलाफ़ गंगासागर की लड़ाई जितवाने वाले Lance Naik Albert Ekka की पूरी कहानी

Sumeet Roy