समाचार प्लस
Breaking खेल देश फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर

CWG:  दंगल में मंगल! पाकिस्तानी पहलवान भी चित, 3 गोल्ड भी लाये साक्षी मलिक, दीपक पुनिया और बजरंग पुनिया

CWG: Sakshi Malik, Deepak Punia and Bajrang Punia bag 3 gold

कुश्ती फेडरेशन की मेहनत रंग लायी

न्यूज डेस्क/ समाचार प्लस

ब्रिटेन के बर्मिंघम में हो रहे कॉमनवेल्थ गेम्स में शुक्रवार को भारतीय पहलवानों का जलवा रहा। भारतीय पहलवानों ने एक-दो नहीं, तीन विरोधी पहलवानों को चित करते हुए 3 गोल्ड मेडल तो देश को दिलाये ही, 1 सिल्वर और 2 ब्रॉन्ज मेडल भी अपने नाम कर अपना दम भी दिखा दिया। बजरंग पुनिया, दीपक पुनिया और साक्षी मलिक ने जहां कुश्ती में गोल्ड की बरसात कर दी, वहीं अंशु मलिक ने सिल्वर मेडल अपने नाम किया। दिव्या काकरान और मोहित ग्रेवाल ने देश को ब्रॉन्ज मेडल दिलाये।

देश के सभी पहलवानों की कामयाबी शानदार रही, लेकिन दीपक पुनिया ने पाकिस्तान के पहलवान के चित कर देशवासियों को खुश कर दिया। पुरुष फ्रीस्टाइल कुश्ती के 86 किलो भार वर्ग में दीपक पुनिया ने पाकिस्तान के पहलवान मोहम्मद इनाम को 3-0 से हरा कर गोल्ड जीता। जबकि, भारतीय साक्षी मलिक ने 62 किलो भार वर्ग में महिला फ्रीस्टाइल में कनाडा की एना गोडिनेज गोंजालेज को बाय फॉल के जरिए 4-4 से शिकस्त दी। साक्षी मलिक 4-0 से पीछे चल रही थीं, लेकिन फिर उन्होंने एक ही दांव में गोडिनेज गोंजालेज को चित कर दिया। भारत के स्टार रेसलर बजरंग पुनिया ने पुरुषों की 65 किलो भारवर्ग में कनाडा के एल मैकलीन को 9-2 से हराकर गोल्ड मेडल अपने नाम किया।

भारतीय पहलवानों ने भारतीय कुश्ती फेडरेशन की मेहनत को किया साकार

बर्मिंघम में चल रहे 22वें कॉमनवेल्थ गेम्स में पहलवानों का शानदार प्रदर्शन बता रहा है कि भारतीय कुश्ती फेडरेशन ने अपने पहलवानों पर जो मेहनत की है, वह रंग ला रही है। 3 गोल्ड, 1 सिल्वर और 2 ब्रॉन्ज लाकर फेडरेशन की मेहनत को साकार किया है। कुश्ती के अभी और भी मुकाबले बाकी हैं, अब तो भारतीय पहलवानों से भारतीय उम्मीदें और भी बढ़ गयी हैं। गोल्ड मेडल जीतने के बाद साक्षी मलिक ने कहा भी कि वह इस बार सोचकर आई थीं कि गोल्ड लेकर जाना है। उन्होंने बताया कि इस मेडल जीतने के लिए मेहनत की जो भी कमियां थीं उन्हें दूर किया। उसी का नतीजा है कि वह गोल्ड जीत पायीं। गोल्ड मेडल लेते वक्त जब भारत का राष्ट्रगान बजा, तो साक्षी भावुक हो गयी थीं। देश को गोल्ड मेडल दिलाने वाले बजरंग पुनिया ने भी कहा कि कहा कि वह हर प्रतियोगिता में अपना सबसे बेहतर देने की कोशिश करते हैं। बजरंग ने तो देश से वादा किया कि वह 2024 के ओलंपिक में भी देश को गोल्ड मेडल दिलाएंगे।  हरियाणा के झज्जर जिले के पहलवान दीपक पुनिया ने जिस तरह से पाकिस्तानी पहलवान को हराकर गोल्ड जीता वही बताने के लिए काफी है कि भारतीय कुश्ती फेडरेशन अपनी तैयारियों में सफल रहा है। और उसका नतीजा आनेवाले दिनों में दिखायी देगा।

यह भी पढ़ें: Vice President Election 2022: उपराष्ट्रपति चुनाव के लिए मतदान शुरू, PM Modi समेत कई मंत्रियों ने की वोटिंग

Related posts

Pakur News: विस्थापितों को एक सप्ताह के अंदर मिलेगा मूलभूत सुविधाओं का लाभ: एसडीओ

Manoj Singh

Bihar Politics : क्या है नयी कहानी…तेजस्वी यादव और अब्दुल बारी सिद्दीकी को आखिर क्यों जाना पड़ा हैदराबाद

Manoj Singh

West Bengal: कूचबिहार में वाहन में करंट दौड़ने से 10 कांवरियों की मौत

Manoj Singh