समाचार प्लस
Breaking देश फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर स्वास्थ्य

Covovax vaccine: Corona के खिलाफ लड़ाई में Serum Institute को बड़ी सफलता, Covovax को WHO ने दी आपातकालीन उपयोग की मंजूरी

Covovax Vaccine

Covovax Vaccine: कोरोना महामारी (Corona Virus) के खिलाफ लड़ाई में सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (Serum Institute of India) को बड़ी सफलता मिली है. विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने सीरम की कोरोना वैक्सीन कोवोवैक्स (Covovax Vaccine) को आपातकालीन उपयोग (Emergency Use) की मंजूरी दे दी है. सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया ने शुक्रवार को ट्वीट कर इसकी जानकारी दी. संस्थान ने कहा, कोवोवैक्स को आपातकालीन उपयोग के लिए WHO की मंजूरी मिल गई है. इससे कोरोना के खिलाफ हमारी लड़ाई और मजबूत होगी.

सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया के सीईओ अदार पूनावाला ने ट्वीट कर WHO की मंजूरी पर खुशी जाहिर की. उन्होंने लिखा, यह अभी तक कोविड-19 के खिलाफ हमारी लड़ाई में एक और मील का पत्थर है. कोवोवैक्स को आपातकालीन उपयोग की मंजूरी मिल गई है. उन्होंने WHO के इस सहयोग के लिए उसका धन्यवाद किया. बता दें कि SII ने कोवोवैक्स के निर्माण और आपूर्ति के लिए अमेरिका की बायोटेक कंपनी Novavax के साथ गठजोड़ किया है. WHO की मंजूरी से कोवोवैक्स  कोविड-19 वैक्सीन की आपूर्ति में काफी विस्तार होगा. SII कोवोवैक्स की 1.1 बिलियन खुराक की आपूर्ति करने के लिए प्रतिबद्ध है.

नोवावैक्स-एसआईआई की इस वैक्सीन को हाल ही में इंडोनेशिया और फिलीपींस में आपातकालीन उपयोग की मंजूरी मिली थी. इसने भारत में भी आपातकालीन उपयोग प्राधिकरण के लिए आवेदन किया है. नोवावैक्स ने यूनाइटेड किंगडम, ऑस्ट्रेलिया, न्यूजीलैंड, कनाडा और डब्ल्यूएचओ के साथ अपने टीके के लिए नियामक फाइलिंग की भी घोषणा की.

WHO ने बयान में क्या कहा

WHO ने एक बयान में कहा कि NVX-CoV2373 के लिए एक आपातकालीन उपयोग सूची (EUL) जारी की, जिसमें SARS-CoV-2 वायरस के खिलाफ WHO-मान्य टीकों का विस्तार किया गया. बयान में आगे कहा गया कि कोवोवैक्स नाम की वैक्सीन, नोवावैक्स के लाइसेंस के तहत सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया द्वारा निर्मित की गई है और यह कोवैक्स सुविधा पोर्टफोलियो का हिस्सा है, जो कम आय वाले देशों में अधिक लोगों को टीकाकरण के लिए चल रहे प्रयासों को बहुत जरूरी बढ़ावा देता है.

इसे भी पढ़ें: Coronavirus Update: भारत में पिछले 24 घंटे में 7,447 नए COVID-19 केस, कल से 6.6 फीसदी कम

Related posts

नहीं रहे पूर्व दिग्गज बैडमिंटन खिलाड़ी नंदू नाटेकर, 88 साल की उम्र में दुनिया को कहा अलविदा

Manoj Singh

Jharkhand HC की टिप्पणी: झारखंड पुलिस नहीं जानती गिरफ्तारी कानून, सरकार को निर्देश – कराएं कैप्सूल कोर्स

Manoj Singh

6G टेक्नोलॉजी भारत में इंट्री को तैयार! कितनी तेज होगी 6G नेटवर्क की इंटरनेट स्पीड और डाउनलोडिंग?

Pramod Kumar