समाचार प्लस
Breaking देश फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर

Corona Vaccination: 1 जनवरी से वैक्सीन के लिए CoWIN पर शुरू होगा बच्चों का रजिस्ट्रेशन

Corona Vaccination CoWIN

न्यूज़ डेस्क/ समाचार प्लस झारखंड- बिहार

भारत में बच्चों के कोरोना टीकाकरण की तैयारियां तेज हो गई हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पिछले दिनों 15 से 18 वायुवर्ग के बच्चों के टीकाकरण का ऐलान कर दिया था। आपको बता दें कि यह टीकाकरण अभियान 3 जनवरी 2022 से शुरू होना है।

1 जनवरी से शुरू होगा cowin पर रजिस्ट्रेशन

बच्चो के लिए COVID-19 वैक्सीनेशन के रजिस्ट्रेशन की शुरुआत 1 जनवरी 2022 से हो जाएगी।  15-18 वर्ष की आयु के बच्चे 1 जनवरी से CoWIN ऐप पर पंजीकरण कर सकेंगे। इसके लिए CoWIN ऐप पर जरूरी बदलाव किए गए हैं। यहां 10वां आईडी कार्ड जोड़ा गया है। इसे स्टूडेंट आईडी कार्ड नाम दिया गया है। ऐसा इसलिए किया गया है क्योंकि हो सकता है कि कुछ बच्चों के पास आधार कार्ड या कोई दूसरा पहचान पत्र न हो।

समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक, भारत बायोटेक का कोवैक्सिन 15 से 18 वर्ष की आयु के बच्चों के लिए उपलब्ध एकमात्र वैक्सीन होने की संभावना है। हालांकि ज़ायडस कैडिला की वैक्सीन ZyCoV-D को भी बच्चों के बीच अनुमोदित किया गया है। ZyCoV-D पहला टीका था जिसे बच्चों पर लगाने के लिए मंजूरी मिली थी, लेकिन यह 3 जनवरी से शुरू होने वाले टीकाकरण कार्यक्रम का हिस्सा नहीं हो सकता है क्योंकि इसे अभी तक वयस्कों के लिए भी इस्तेमाल नहीं किया गया है।

पीएम मोदी ने किया था ऐलान

पीएम मोदी ने क्रिसमस के मौके पर देश को संबोधित करते हुए देशवासियों को बड़ा तोहफा दिया था. उन्होंने ऐलान करते हुए कहा कि 3 जनवरी, 2022 से 15 से 18 साल के बच्चों को कोरोना वैक्सीन (Corona Vaccine) का डोज देना शुरू कर दिया जाएगा.

सूत्रों के मुताबिक ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (DCGI) ने भारत बायोटेक (Bharat Biotech) की कोरोना वैक्सीन (Corona Vaccine) कोवैक्सीन (Covaxin) को 15 से 18 साल तक के बच्चों के लिए इमरजेंसी इस्तेमाल की मंज़ूरी दे दी है. बच्चों को कोविन ऐप रजिस्ट्रेशन करना होगा. इसके बाद उन्हें स्लॉट मिलेगा. कोविन ऐप पर स्लॉट के दौरान बच्चों से उनका आधार कार्ड नंबर मांगा जाएगा. संभावना है कि बच्चों के लिए अलग से सेंटर बनाया जाए.

प्रधानमंत्री ने बूस्टर डोज का भी किया ऐलान

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने फ्रंटलाइन वर्कर्स और 60 साल से अधिक उम्र के बुजुर्गों के लिए भी बूस्टर डोज यानी कि वैक्सीन के तीसरे टीके की मंजूरी दे दी है. जिसको लेकर एक्सपर्ट का मानना है कि जिस प्रकार से ओमिक्रोन के मामले बढ़ रहे हैं ऐसे में यदि थर्ड वेव आती है तो सबसे पहले स्वास्थ्य कर्मी और फ्रंटलाइन वर्कर्स इससे सुरक्षित होंगे, क्योंकि उन्हें कोरोना का टीका लगे 10 से 11 महीने हो चुके हैं. ऐसे में उनकी इम्यूनिटी कमजोर हो रही थी लेकिन अब 10 जनवरी से उन्हें भी कोरोना का टीका लगना शुरू हो जाएगा.

ये भी पढ़ें : Video : Salman Khan को सांप ने काटा तो डैड सलीम ने पूछा- सांप जिंदा है? मिला ये जवाब

Related posts

T20 World Cup: कल आमने-सामने होंगी विराट और बाबर की ये सेनाएं, जीत के लिए लगायेंगी जान

Pramod Kumar

बिहार : रक्षाबंधन पर बहनों को सौगात, भाई के घर जा रही बहनें सिटी सर्विस की बसों में करेंगी मुफ्त सफर

Manoj Singh

MS Dhoni New Look: पूर्व कप्तान धोनी ने किया Makeover, देखें उनका नया लुक

Sumeet Roy