समाचार प्लस
Breaking अंतरराष्ट्रीय देश फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर स्वास्थ्य

Delta से कई गुना ज्यादा खतरनाक Omicron Variant, जानें  इंफेक्शन के लक्षण

Omicron Variant

नई दिल्ली: Corona Virus का डर अबतक ठीक से गया भी नहीं था की वायरस का नया वेरिएंट B.1.1.529 (Omicron) दुनिया के सामने एक नई मुसीबत बनकर खड़ा हो गया. WHO ने इसे लेकर चिंता जाहिर की है और इसे ”वेरिएंट ऑफ कन्सर्न’ के रूप में सूचीबद्ध भी किया है. दुनियाभर के एक्सपर्ट्स का यह मानना है की Omicron जैसे खतरनाक वेरिएंट पर मोनोक्लोनल एंटीबॉडीज थैरेपी का कोई असर नहीं होता है. यह एक खतरे की घंटी जैसी ही लगती है. इस वेरिएंट की ताकत और लक्षणों को लेकर भी बहुत सी नई बातें सामने आई हैं.

कितना खतरनाक है Omicron वेरिएंट

दक्षिण अफ्रीका समेत अन्य देशों में Omicron इंफेक्शन के प्रारंभिक विश्लेषण के आधार पर इसे डेल्टा वेरिएंट से छह गुना ज्यादा ताकतवर बताया जा रहा है. डेल्टा वही वेरिएंट है जिसने भारत में कोरोना की दूसरी लहर के दौरान तबाही मचाकर रख दी थी. यह वेरिएंट इम्यून सिस्टम को भी चकमा दे सकता है. एक रिपोर्ट के मुताबिक, Omicron पिछले वेरिएंट्स से ज्यादा खतरनाक है और वैक्सीनेशन या नेचुरल इंफेक्शन से होने वाले इम्यून रिस्पॉन्स को भी बेअसर कर सकता है.

मोनोक्लोनल एंटीबॉडी थैरेपी भी है Omicron के सामने बेअसर

ज्यादा इंफेक्शन और लोगों को तेजी से मौत के घाट उतारने वाले डेल्टा वेरिएंट पर मोनोक्लोनल एंटीबॉडी थैरेपी का असर दिखाई देता है. जबकि डेल्टा प्लस वेरिएंट पर इस थैरेपी का कोई असर नहीं होता है, जो कि कोविड-19 इंफेक्शन के शुरुआती चरणों में एक चमत्कारी इलाज माना जाता है. डेल्टा प्लस वेरिएंट के बाद Omicron दूसरा ऐसा वेरिएंट है जिस पर मोनोक्लोनल एंटीबॉडी ट्रीटमेंट का कोई प्रभाव नहीं पड़ता है.

Omicron इंफेक्शन के लक्षण?

दक्षिण अफ्रीका में सबसे पहले Omicron वेरिएंट की पहचान करने वाली डॉक्टर एंजेलीके कोएट्जी ने एक रिपोर्ट में कहा था की, ‘मैंने इसके लक्षण सबसे पहले कम उम्र के एक शख्स में देखे थे जो तकरीबन 30 साल का था.’ उन्होंने बताया कि मरीज को बहुत ज्यादा थकावट रहती थी. उसे हल्के सिरदर्द के साथ पूरे शरीर में दर्द की शिकायत थी. उसे गला छिलने जैसी दिक्कत भी थी. हालांकि, उसे ना तो खांसी थी और ना ही लॉस ऑफ टेस्ट एंड स्मैल (स्वाद और गंध की क्षमता खत्म होना) जैसा कोई लक्षण दिख रहा था. हालांकि, डॉक्टर ने मरीजों के एक छोटे से समूह को देखकर ही ये प्रतिक्रिया दी थी. अधिकांश लोगों में इसके लक्षण कैसे होंगे, इसे लेकर उन्होंने कोई स्पष्ट दावा नहीं किया है.

ओमिक्रॉन की चपेट में ये देश

दक्षिण अफ्रीका में पाया गया खतरनाक Omicron वेरिएंट अब तक कई देशों में फैल चुका है. शनिवार को जर्मनी, इटली, बेल्जियम, इजरायल और हॉन्गकॉन्ग में इसके नए मामले दर्ज किए गए. ब्रिटेन में भी Omicron के दो मामले सामने आने के बाद मास्क, सोशल डिस्टेंसिंग और टेस्टिंग को लेकर सरकार हरकत में आ गई है.

यह भी पढ़ें – Parliament Winter Session: सरकार किसी भी मुद्दे पर बहस करने के लिए तैयार – प्रधानमंत्री

Related posts

Bihar Liquor News: बिहार के नालंदा में जहरीली शराब से 9 की मौत, परिजनों की मांग- जांच करवाए सरकार

Sumeet Roy

अब ट्रेन टिकट कैंसिल कराने पर तुरंत वापस आएगा पैसा, जानिए कैसे

Manoj Singh

ब्लूमबर्ग की रिपोर्ट: मुकेश अंबानी पिछड़े, गौतम अडाणी बने एशिया के सबसे अमीर!

Pramod Kumar