समाचार प्लस
Breaking देश फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर

त्रिपुरा के सीएम का विवादित बयान, बोले- अदालत की अवमानना से न डरें अफसर, ‘मैं बाघ हूं.’

त्रिपुरा के सीएम का विवादित बयान, बोले- अदालत की अवमानना से न डरें अफसर, 'मैं बाघ हूं.'

न्यूज़ डेस्क/ समाचार प्लस झारखंड- बिहार
त्रिपुरा के मुख्यमंत्री बिप्लब कुमार देब (Biplab Kumar Deb) ने एक बार फिर विवादित बयान दिया है. उन्होंने सरकारी अधिकारियों से कहा है कि वे अदालत की अवमानना के बारे में चिंता न करें, क्योंकि पुलिस उनके नियंत्रण में है और ऐसे में किसी को जेल भेजना आसान नहीं है.

सीएम बोले- मैं बाघ हूं

देब ने त्रिपुरा सिविल सर्विस ऑफिसर्स एसोसिएशन के द्विवार्षिक सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा था कि अधिकारियों का एक वर्ग इस तरह अदालत की अवमानना का हवाला दे रहा है जैसे कि यह अवमानना कोई बाघ हो, लेकिन वास्तव में ‘मैं बाघ हूं.’ देब की इस टिप्पणी पर विवाद खड़ा हो गया है. विपक्ष ने कहा कि उनके शासन में लोकतंत्र दांव पर है.

‘अवमानना से डरता है अधिकारियों का एक वर्ग’

मुख्यमंत्री ने शनिवार को रवींद्र भवन में आयोजित कार्यक्रम में कहा, ‘आजकल, अधिकारियों का एक वर्ग अदालत की अवमानना से डरता है. वे अदालत की अवमानना का हवाला देते हुए यह कहकर किसी फाइल को नहीं छूते हैं कि परेशानी खड़ी हो जाएगी. अगर मैं ऐसा करता हूं तो मुझे अदालत की अवमानना के लिए जेल भेजा जाएगा.’

‘किसी को जेल भेजना आसान नहीं’

उन्होंने कहा, ‘समस्या कहां है? अदालत की अवमानना के आरोप में अब तक कितने अधिकारियों को जेल भेजा गया है? मैं यहां हूं, आप में से किसी को भी जेल भेजे जाने से पहले मैं जेल जाऊंगा.’ देब ने कहा कि किसी को जेल भेजना आसान नहीं है, क्योंकि इसके लिए पुलिस की जरूरत होती है. देब राज्य के गृह मंत्री भी हैं.

 मैं पुलिस को नियंत्रित करता हूं’

उन्होंने तालियों की गड़गड़ाहट के बीच कहा था, ‘और, मैं पुलिस को नियंत्रित करता हूं. अधिकारी इस तरह हालात का हवाला दे रहे हैं जैसे कि अदालत की अवमानना कोई बाघ हो! मैं आप सभी को आश्वस्त करना चाहता हूं कि मैं बाघ हूं. सरकार चलाने वाले के पास शक्ति होती है.’
ये भी पढ़ें :कट्टरता की पाठशाला! सीनियर IAS अधिकारी सरकारी आवास पर गिना रहे इस्लाम के फायदे, Video Viral

 

Related posts

‘तालिबान खान’ सरकार का फरमान: पाकिस्तान में महिला-पुरुष टीचर्स नहीं पहनेंगे टाइट कपड़े

Pramod Kumar

निजी अस्पतालों में इलाज के नाम पर ‘आम’ ही नहीं ‘खास’ से भी हो रही लूट, कब कसेगी नकेल

Manoj Singh

जज उत्तम आनंद मौत मामला: हाईकोर्ट ने की टिप्पणी, ‘मामले का जल्‍द खुलासा न होना न्‍याय व्‍यवस्‍था के लिए ठीक नहीं’

Manoj Singh