समाचार प्लस
Breaking देश फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर बिहार

Mission 2047of PFI: बिहार में भारत को इस्लामिक राष्ट्र बनाने की साजिश का पर्दाफाश, झारखंड पुलिस का रिटायर सब इंस्पेक्टर भी शामिल, गिरफ्तार

image source : social media

Mission 2047of PFI: राजधानी पटना पुलिस को बड़ी सफलता मिली है। पुलिस ने फुलवारीशरीफ इलाके से दो लोगों को गिरफ्तार किया है। जिनका आतंकवादी संगठन सिमी (Students Islamic Movement of India) से कनेक्शल मिला है.

भारत को 2047 तक इस्लामिक राष्ट्र बनाने की चल रही थी तैयारी 

भारत को 2047 तक इस्लामिक राष्ट्र बनाने की तैयारी बिहार की राजधानी पटना में की जा रही थी। इसका पूरा खाका तैयार कर लिया गया था। इस उद्देश्य की पूर्ति के लिए लोगों की भर्तियां की जा रही थी। जिन लोगों को संगठन में शामिल कर लिया गया था, उन्हें पटना में प्रशिक्षण दिया जा रहा था। उनको इसके लिए शारीरिक और मानसिक तौर पर तैयार किया जा रहा था। इस साजिश का खुलासा फुलवारी शरीफ के एएसपी मनीष कुमार सिन्हा ने किया है।

image source : social media
image source : social media

 दी जा रही थी अस्त्र-शस्त्र की ट्रेनिंग

बताया जा रहा है कि जिस मकान में वे रहते थे, वहां मार्शल आर्ट और शारीरिक शिक्षा के नाम पर अस्त्र-शस्त्र की ट्रेनिंग दी जा रही थी।इसके अलावा दोनों पर धार्मिक उन्माद फैलाने और आतंकवादी गतिविधि कार्य करने की भी बात सामने आई है। गोपनीय ढंग से प्रशिक्षण कार्यक्रम में काफी लोग प्रशिक्षित किए गए हैं।

 दो आतंकवादी गिरफ्तार 

बिहार की राजधानी पटना से दो कथित आतंकवादियों (मोहम्मद जलालुद्दीन और अतहर परवेज) को गिरफ्तार किया गया। पुलिस के मुताबिक ये लोग देश विरोधी गतिविधि में शामिल थे। एक समुदाय विशेष के लोगों को आतंकी ट्रेनिंग दे रहे थे। प्रतिबंधित संगठन सिमी के सदस्य अहमद प्रवेश इसमें शामिल था। साथ ही गांधी मैदान ब्लास्ट कांड के आरोपी का सगा भाई भी ट्रेनिंग देने का काम करता था। इसका खर्च पाकिस्तान, बांग्लादेश और केरल समेत दूसरे जगहों से आती थी। पुलिस के मुताबिक उसके पास सीसीटीवी फुटेज के अलावा टेक्निकल सबूत मौजूद है।

image source : social media
image source : social media

 दिमाग में भरा जाता था देश विरोधी जहर

11 जुलाई को नया टोला नहर स्थित मोहम्मद जलालुद्दीन के मकान में छापेमारी की गई, जो झारखंड पुलिस का रिटायर सब इंस्पेक्टर है। फुलवारी शरीफ के एएसपी मनीष कुमार सिन्हा के मुताबिक आईबी की सूचना के आधार पर इसके अलावा फुलवारी शरीफ के गुलिस्तान मोहल्ला के रहनेवाले अतहर परवेज के यहां पुलिस पहुंची, जो प्रतिबंधित संगठन सिमी का पूर्व सदस्य भी है। अतहर परवेज, पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (PFI) और सोशल डेमोक्रेटिक पार्टी ऑफ इंडिया (SDPI) के  सक्रिय सदस्य है। ये दोनों बैठक में लोगों के दिलोदिमाग में देश विरोधी जहर भरा करते थे।

ये भी पढ़ें : 18 साल से अधिक उम्र के लोगों को फ्री में लगेगी बूस्टर डोज, 15 जुलाई से विशेष अभियान

 

Related posts

SC कॉलेजियम ने हाई कोर्ट में जजों की नियुक्ति के लिए 68 नामों की सिफारिश की, 10 महिला भी शामिल

Manoj Singh

MP BJP का नहले पे दहला:  भूपेंद्र पटेल का बदला चरणजीत चन्नी से, गुजरात सीएम पर कांग्रेस ने ली थी चुटकी

Pramod Kumar

सब ईश्वर की कृपा है: 15 सितम्बर को खोयी जुड़वां बेटियां, 15 सितम्बर को ही जन्मी जुड़वां बच्चियां

Pramod Kumar