समाचार प्लस
Breaking देश फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर

कांग्रेस को बलात्कार में भी चाहिए ‘राजनीतिक मजा’, बाढ़ की चर्चा में ‘बह गये’ कर्नाटक के विधायक रमेश

Sexy Comment of Ramesh Kumar Karnataka

न्यूज डेस्क/ समाचार प्लस – झारखंड-बिहार

कांग्रेस बयान वीरों की पार्टी बन गयी है, कोई मुद्दा हो तो बयान, कोई मुद्दा न हो तो बयान। काशी विश्वनाथ कोरिडोर बने तो बयान, हेलिकॉप्टर क्रैश में जवान शहीद हों तो बयान। विधानसभा में बाढ़ पर चर्चा हो उस पर बयान देना तो ठीक है, लेकिन जिसमें मर्यादा ही ‘बह जाये’ ऐसा बयान कहां तक उचित है। मुद्दा हो, न हो, बस मुंह खुल जाना जाना चाहिए, वरना लोग इन्हें नेता नहीं समझेंगे।

राजस्थान के एक कांग्रेस नेता राजेन्द्र राठौड़ का तमिलनाडु के हेलिकॉप्टर क्रैश में शहादत पर दिये बयान का मुद्दा शांत हुआ नहीं कि कर्नाटक विधानसभा के पूर्व अध्यक्ष और कांग्रेस के वरिष्ठ विधायक केआर रमेश कुमार ने अति निन्दनीय बयान दे डाला है। उनकी नजर में बलात्कार कोई ‘मजा लेने की वस्तु’ है। उदाहरण वह बाढ़ से सम्बंधित नुकसान का दे रहे थे, उसमें अनायास उन्होंने ‘बलात्कार’ शब्द घुसा दिया। इन नेताओं को यह समझ क्यों नहीं आता कि सदन जैसे पवित्र मंदिर में ‘गंदगी’ नहीं फैलायी जाती।

अब जरा जान लें कि उन्होंने कहा क्या था। विधानसभा सत्र के दौरान उन्होंने कहा कि ‘जब बलात्कार होना ही है, तो लेटो और मजे लो’। उन्होंने यह बयान उस वक्त दिया जब विधानसभा में बारिश और बाढ़ से संबंधित नुकसान को लेकर चर्चा हो रही थी, जिसमें कई विधायक अपने-अपने क्षेत्र के लोगों की दशा को पटल पर रखना चाह रहे थे।

विधानसभा अध्यक्ष विश्वेश्वर हेगड़े कागेरी ने चर्चा को जल्द पूरी कराने के उद्देश्य से कहा था कि ‘मैं उस स्थिति में हूं जहां मुझे मजा लेना है और हां, हां करना है। मुझे स्थिति को नियंत्रित करना छोड़ देना चाहिए और कार्यवाही व्यवस्थित तरीके से चलानी चाहिए।‘ इस पर पूर्व मंत्री रमेश कुमार ने हस्तक्षेप करते हुए कहा, ‘देखिए, एक कहावत है- जब बलात्कार होना ही है, तो लेटो और मजे लो। आप एकदम इसी हालत में हैं।

दक्षिण अफ्रीका का सदन बनाना चाहते हैं रमेश कुमार

दक्षिण अफ्रीका विश्व के उन देशों में जहां को कई शहरों में बलात्कार करना आम है। एक आंकड़े में यहां तक बताया गया था कि वहां 12 वर्ष की उम्र तक होते-होते बहुत कम लड़कियां कुआंरी रह पाती हैं, क्योंकि वहां  घर में भी ‘बलात्कारी’ बैठे हैं। एक आश्चर्यजनक बात यह है कि वहां की संसद में भी बलात्कार की चर्चाएं आम बात है। कई सांसद तो  गर्व के साथ अपने बलात्कार की किस्से सदन में सुनाते रहते हैं। अब भारत में भी एक विधायक ने इसकी शुरुआत कर दी। हालांकि रमेश कुमार पहले ऐसे विधायक नहीं हैं, इससे पहले भी कई लोग इस तरह की बात कह चुके हैं।

यह भी पढ़ें: UPA विधायक दल की बैठक में नहीं पहुंचे नाराज कांग्रेसी विधायक, JMM दे रहा सफाई

Related posts

Parliament में हंगामा : लोकतंत्र की तस्वीर को तार- तार करने से बाज नहीं आते माननीय, जनता की भावनाओं और देश के पैसे से होता है खिलवाड़

Manoj Singh

US Open Final: नोवाक जोकोविच का इतिहास रचने का सपना चकनाचूर, डेनिल मेदवेदेव ने जीता अपना पहला ग्रैंड स्लैम खिताब

Manoj Singh

Central University of Jharkhand के सहायक प्रोफ़ेसर डॉ.अमृत कुमार हुए सम्मानित

Vaidya Ritika Gautam