समाचार प्लस
Breaking झारखण्ड फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर

कोयला संकट ने बढ़ाया बिजली संकट, झारखंड समेत कई राज्यों में बिजली कटौती चालू

Coal crisis increased power crisis, power cuts started in many states including Jharkhand

न्यूज डेस्क/ समाचार प्लस – झारखंड-बिहार

अभी कुछ महीने पहले देश में कोयले का संकट गहराया था, जिसने देश के कई राज्यों बिजली संकट की चपेट में आ गये थे। देश फिर उसी स्थिति में इस समय है। इस समय भी देश में कोयले का संकट गहराया हुआ है जिसका असर बिजली उत्पादन पर पड़ा है। कोयला उत्पादन इस वक्त बीते 9 साल के मुकाबले सबसे निचले स्तर पर पहुंचा हुआ है। जिसका असर बिजली उत्पादन पर पड़ रहा है। एक तो गर्मियों का मौसम है, जिसके कारण बिजली की खपत बढ़ी हुई है, दूसरी ओर कोरोना के दौर से बाहर आने के बाद उद्योगों ने भी अपना उत्पादन बढ़ा दिया है ताकि जो नुकसान हो चुकी है उसकी भरपाई हो सके। इससे भी बिजली की अधिक खपत हो रही है। इसलिए कोयले के उत्पादन का कम होने बिजली संकट को और गहरा कर रहा है।

कई राज्यों में बिजली कटौती शुरू, कतार में बड़े राज्य

आंध्र प्रदेश, कर्नाटक, बिहार, मध्य प्रदेश, झारखंड, पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, तेलंगाना और उत्तर प्रदेश में बिजली कटौती शुरू हो चुकी है। बड़ा औद्योगिक राज्य महाराष्ट्र भी बिजली कटौती के मुहाने पर पहुंच चुका है। गुजरात और तमिलनाडु जैसे राज्यों ने अपनी ऊर्जा-कंपनियों को महंगे दामों पर भी अन्य राज्यों से बिजली खरीदने की इजाजत दे दी है ताकि उनके यहां बिजली-कटौती न हो। बता दें, मांग की तुलना में इस वक्त बिजली आपूर्ति में 1.4 प्रतिशत की कमी है, यह नवंबर-2021 में हुई 1 प्रतिशत की कमी से भी ज्यादा है, लेकिन कोयले का यही संकट आगे भी जारी रहा तो बिजली की कमी का यह अंतर और बढ़ जायेगा।

यह भी पढ़ें: Jharkhand Panchayat Election: निचले स्तर पर भागीदारी की प्रक्रिया को सहज बनाता है ग्राम स्वशासन

Related posts

Ravan Dahan: गुणों की खान भी है बुराई का प्रतीक रावण, भारतीय मानस में रचे बसे हैं दशानन रचित शास्त्र

Pramod Kumar

Jharkhand Petrol Subsidy: पेट्रोल 25 रुपये सस्ता तो हो गया…पर अभी बहुत लफड़ा है रे भाई…

Manoj Singh

BSNL Jobs: बीएसएनएल कर रहा इस पद पर भर्ती, 75 हजार मिलेगी सैलरी

Manoj Singh