समाचार प्लस
Breaking देश फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर राजनीति

‘2014 में जो आए थे वो 2024 में रह पाएंगे कि नहीं…?’, शपथ लेते ही CM Nitish ने किया PM मोदी को चैलेंज

image source : social media

बिहार में आज से महागठबंधन की सरकार बन गई है. नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) ने आठवीं बार सीएम पद की शपथ ली तो वहीं तेजस्वी यादव ने दूसरी बार डिप्टी सीएम पद की शपथ ली है. शपथग्रहण के बाद जब नीतीश कुमार राजभवन में मीडिया के सामने आए तो बीजेपी (BJP) के प्रति उनके तेवर काफी तल्ख़ नजर आए. जब नीतीश कुमार से पूछा गया कि क्या वो 2024 के लोकसभा चुनाव में विपक्ष की तरफ से पीएम पद के दावेदार होंगे तो इसके जवाब में नीतीश ने कहा कि उनकी ऐसी कोई दावेदारी नहीं है, लेकिन उनके इस बयान पर अब तरह-तरह के कयास लगाए जा रहे हैं.

image source : social media
image source : social media

बिना नाम लिए नरेंद्र मोदी और बीजेपी पर हमला बोला

नीतीश कुमार ने कहा, ‘जो 2014 में आए थे क्या वे 2024 में भी आएंगे? मैं चाहता हूं कि सभी विपक्षी दल 2024 के लिए एकजुट हों.’ एनडीए का साथ छोड़ने के बाद बिहार सीएम ने बिना नाम लिए नरेंद्र मोदी और बीजेपी पर हमला बोला. नीतीश ने कहा, ‘जिन लोगों को लगता है कि विपक्ष खत्म हो जाएगा तो हम लोग भी तो आ ही गए विपक्ष में. जितना करना है वो लोग करते रहें.’

2024 में विपक्ष नीतीश कुमार को बतौर प्रधानमंत्री प्रोजेक्ट करेगा!

दरअसल, नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) 2024 की बात कर रहे थे, लेकिन अचानक उनके मुंह से 2014 निकल गया. माना जा रहा है कि जदयू और राजद में इस बात को लेकर सहमति बन चुकी है कि 2024 में विपक्ष नीतीश कुमार को बतौर प्रधानमंत्री प्रोजेक्ट करेगा जिसका मतलब होगा कि नीतीश अब सीएम नहीं रहेंगे, और संभवतः  2024 में नीतीश कुमार बिहार की सत्ता तेजस्वी यादव को सौंप देंगे.

image source : social media
image source : social media

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को 2024 के लोकसभा चुनाव में देंगे चुनौती!

नीतीश कुमार ने साफ़ कहा है कि ’14 में जो आए थे, वो 24 तक आगे रह पाएंगे कि नहीं…’ यानी नीतीश कुमार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को 2024 के लोकसभा चुनाव में चुनौती देने का मन बना लिया है. वहीँ 2024 में लोकसभा चुनाव होने हैं और जदयू के तमाम नेता बार-बार ये कहते रहे हैं कि नीतीश कुमार प्रधानमंत्री का चेहरा है और बिहार में विधानसभा चुनाव 2025 में होने हैं.

‘आख़िरी चुनाव’ बताकर सियासी गलियारे में छेड़ दी थी एक नई चर्चा

बता दें कि 2020 के बिहार विधानसभा चुनाव में आख़िरी चरण के मतदान के लिए चुनाव प्रचार के आख़िरी दिन मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पूर्णिया के धमदाहा में एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए इस चुनाव को अपना ‘आख़िरी चुनाव’ बताकर सियासी गलियारे में एक नई चर्चा छेड़ दी थी. इसका अर्थ  राजनीतिक गलियारों में यह निकाल लिया गया कि अब वो राष्ट्रीय स्तर की राजनीति करना चाहते हैं, भले ही प्रधानमंत्री पद की  दावेदारी को लेकर वो साफ़ इनकार करते हैं, लेकिन उनकी नजर प्रधानमंत्री की कुर्सी पर ही टिकी है,  आज उनके द्वारा दिए गए इस बयान ने उनकी पीएम बनने की महत्वाकांक्षा को बल दे दिया है .

ये भी पढ़ें :22 साल में 8वीं बार बिहार के मुख्यमंत्री बने नीतीश कुमार, तेजस्वी ने ली डिप्टी सीएम पद की शपथ

 

 

Related posts

जहानाबाद के खिरौटी में करंट लगने से पति-पत्नी समेत तीन लोगों की मौत, चारा के लिए घास काटने जा रहे थे

Manoj Singh

Mandar By-Election Result Live Updates: 18वें राउंड में कांग्रेस प्रत्याशी शिल्पी नेहा तिर्की आगे, मतों की गिनती जारी

Manoj Singh

Covid-19: दुनियाभर में कोरोना महामारी से मरने वालों का आंकड़ा 50 लाख पार, भारत में सुधर रहे हालात

Pramod Kumar