समाचार प्लस
Uncategories

दुमका में सीएम Hemant Soren ने फहराया तिरंगा, रोजगार को लेकर कही ये बात

दुमकाः गणतंत्र दिवस के अवसर पर झारखंड के उप राजधानी दुमका में मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन (Hemant Soren) ने तिरंगा फहराया और झंडे को सलामी दी. मुख्य समारोह शहर के पुलिस लाइन मैदान में आयोजित किया गया. इस अवसर पर विधायक बसंत सोरेन भी मौजूद थे. इसके साथ ही संथालपरगना के डीआईजी सुदर्शन प्रसाद मंडल, उपायुक्त रवि शंकर शुक्ला, एसपी अम्बर लकड़ा सहित स्थानीय जनप्रतिनिधि मौजूद थे.

परेड का किया निरीक्षण

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन (Hemant Soren) ने गणतंत्र दिवस (Republic day) के अवसर पर परेड का निरीक्षण किया. परेड में 14 प्लाटून शामिल थे, जिसमें जिला पुलिस बल, आईआरबी, जैप, एसएसबी, एनसीसी के जवान शामिल थे. वही, इस अवसर पर सीएम हेमंत सोरेन ने राज्य और देशवासियों को गणतंत्र दिवस की शुभकामनाएं दी है.

1932 के खतियान को लेकर कही ये बात 

सीएम ने आगे कहा कि सरकारी कर्मियों की इस चिर-प्रतीक्षित माँग को पूरा करते हुए हमारी सरकार ने राज्य में पुरानी पेंशन योजना को (OPS) लागू किया. अब राज्य सरकार के कर्मियों के चेहरे पर मुस्कान है और वे अपने भविष्य को लेकर आश्वस्त हैं. सीएम हेमंत सोरेन ने कहा कि मूलवासियों के लिए स्थानीय नीति लगा, जिसका लाभ सिर्फ और सिर्फ आदिवासियों को ही मिलेगा. उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने 1932 के खतियान के आधार पर स्थानीय व्यक्ति को परिभाषित करने एवं सरकारी नौकरियों में अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति तथा पिछड़ा वर्ग के लिए तय आरक्षण का प्रतिशत बढ़ाने के उद्देश्य से संबंधित दोनों विधेयकों को पारित कराया है.

इन उपलब्धियों को गिनाया  

अपनी सरकार की उपलब्धियों को गिनाते हुए आगे उन्होंने कहा कि योजनाओं का लाभ जरूरतमंदों को मिल सके. इसके लिए विगत वर्ष “आपकी योजना आपकी सरकार आपके द्वार कार्यक्रम का आयोजन हुआ. कार्यक्रम के तहत हर जरूरतमंद की आजीविका को सुदृढ़ करने हेतु विकास योजनाओं से लाभान्वित किया गया. राज्य के प्राथमिक विद्यालयों में छात्र-छात्राओं के नामांकन एवं गुणवत्तापूर्ण शिक्षा सुनिश्चित करने हेतु हम कृतसंकल्पित हैं. भारत सरकार द्वारा जारी किये गये  शैक्षणिक सूचकांक में विगत एक वर्ष में राज्य को 29 अंकों का इजाफा हुआ है जो पूरे देश में सर्वाधिक है. गुरूजी स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड योजना शुरू की गई. स्टूडेंट्स को इजीनियरिंग, मेडिकल, लॉ, रिसर्च  तथा आईआईटी  एवं आईआईएम  जैसी संस्थानों में शिक्षा प्राप्त करने में सुविधा होगी.

योजनाओं का किया बखान 

सीएम ने आगे कहा कि राज्य के युवाओं को रोजगार पाने अथवा स्वरोजगार करने योग्य बनाने के लिए कौशल प्रशिक्षण प्रदान करने के निमित्त “मुख्यमंत्री सारथी योजना” का शुभारंभ किया गया है. योजना के तहत प्रतिवर्ष 2 लाख युवाओं को निःशुल्क प्रशिक्षण प्रदान किया जाएगा. राज्य की बालिकाओं के कल्याण हेतु सावित्रीबाई फुले किशोरी समृद्धि योजना प्रारंभ की है. प्रत्येक बालिका को ₹40,000 तक की सहायता राशि प्रदान की जा रही है. अबतक करीब 5.50 लाख बालिकाओं को योजना का लाभ दिया गया है. हमारी सरकार ने मुख्यमंत्री गम्भीर बीमारी उपचार योजना के तहत चिकित्सा हेतु देय सहायता अनुदान की राशि को ₹5 लाख से बढ़ाकर ₹10 लाख कर दिया है। साथ ही पूर्व से स्वीकृत असाध्य रोगों की सूची में अन्य असाध्य रोगों को भी शामिल किया गया है.

 ये भी पढ़ें : झारखंड के डॉ जानुम सिंह सोय को शिक्षा और साहित्य के क्षेत्र में पद्मश्री, हो भाषा को दिलाई राष्ट्रीय पहचान

Related posts

International Shotokan Karate प्रतियोगिता में झारखंड के खिलाड़ियों ने जीते 2 स्वर्ण सहित कुल 12 पदक, रांची पहुंचने पर हुआ जोरदार स्वागत

Sumeet Roy

IND vs NZ : रांची T-20 में भारत की जीत, पंत ने लगाया विजयी छक्का, सीरीज पर भी कब्जा

Sumeet Roy

Jharkhand International Film Festival Awards में CUJ के छात्रों की फ़ोटो एवं फिल्म प्रदर्शनी का हुआ उद्घाटन

Sumeet Roy