समाचार प्लस
Breaking झारखण्ड राँची

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने किया वन महोत्सव का शुभारंभ, कहा- विनाश की ओर बढ़ रहे हम

Van Mahotsav

रांची : झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने मंगलवार को 72वें Van Mahotsav में शाल का वृक्ष लगाकर वृक्षारोपण कार्यक्रम की शुरुआत की. इससे पहले कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि जल, जंगल ,जमीन की झलक हमारे राज्य में दिखती है और इसीलिए इस राज्य का नाम झारखंड रखा गया है. हमें चिंता इस बात की है कि लगातार हम विकास कि सीढ़ी चढ़ रहे हैं, वैसे वैसे विनाश को भी आमंत्रित कर रहे हैं. उन्होंने ने कहा कि आज संकल्प लेने की जरुरत है कि वन महोत्सव के बहाने पौधरोपण करने का काम पूरे प्रदेश में किया जाएगा.

2021 में 1 करोड़ 65 लाख पौधा लगाने का लक्ष्य निर्धारित

2021 में 1 करोड़ 65 लाख पौधा लगाने का लक्ष्य निर्धारित है. मुख्यमंत्री ने आगे कहा कि मैंने सभी अधिकारियों को निर्देश दिया है कि रांची में खाली पड़ी सरकारी जमीनों पर पौधरोपण किया जाए. मुख्यमंत्री ने पर्यवारण पर चिंता जाहिर करते हुए कहा कि हम देख रहे हैं कि नदी के पानी सूख रहे हैं, जंगल में आग लग रहे हैं  पहाड़ काटे जा रहे हैं. ऐसे में वातावरण खतरे में पड़ रहा है. महामारी के दौरान इस समस्या को झेल चुके हैं और आगे भी झेलना ना पड़े, इसलिए अभी से सतर्क होने की जरूरत है.

किसी भी कार्यक्रम में फूलों का गुलदस्ता देने के बजाय पौधा दें

हर एक व्यक्ति को अपने किसी भी कार्यक्रम में फूलों का गुलदस्ता देने के बजाय पौधा दें. कोशिश यही होनी चाहिए कि हर व्यक्ति को अपने घर आंगन में एक वृक्ष जरूर लगाएं , तभी पर्यावरण संरक्षित रहेगा. मुख्यमंत्री ने मुख्यमंत्री वन जन योजना की चर्चा करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री वन जन योजना के तहत भी व्यक्ति फलदार वृक्ष अपने घर ले जाकर उसकी देख -रेख करें, मनरेगा के तहत मजदूरी राशि भी मिलेगी .

ये रहे उपस्थित

उन्होंने बिरसा एग्रीकल्चर पर कहा कि वृक्षारोपण के कार्यक्रम तो चलाए जाते हैं, लेकिन वृक्ष कितने सुरक्षित हैं, यह भी हम देख रहे हैं और कागज पर कितना सीमित है, उसका भी हम आकलन कर रहे हैं, इस अवसर पर राज्य सभा सदस्य धीरज साहू एवं खिजरी विधायक राजेश कच्छप ने भी पौधारोपण करने के लिए लोगों को प्रोत्साहित किया.

इसे भी पढ़े: Jharcraft राज्य की पहचान है, इसे प्रॉफेशनल तरीके से चलाने की जरूरत है – CM

Related posts

Time magazine: 100 प्रभावशाली लोगों की सूची में पीएम मोदी, ममता बनर्जी और अदार पूनावाला

Pramod Kumar

पेट्रोल डीजल के बाद अब LPG cylinder हुआ महंगा, जानें कितने बढ़े दाम

Manoj Singh

ट्रायफेड और बिग बास्केट के बीच एमओयू, झारखंड के जनजातीय क्षेत्रों के उत्पादों को मिलेगा अंतरराष्ट्रीय बाजार

Pramod Kumar