समाचार प्लस
Breaking झारखण्ड फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर राँची

Chhath In Birsa Munda Central Jail : बंदियों के बीच भी छठ महापर्व की धूम, 10 बंदी कर रहे व्रत

Chhath In Birsa Munda Central Jail

न्यूज़ डेस्क/ समाचार प्लस झारखंड- बिहार

Chhath In Birsa Munda Central Jail : होटवार स्थित बिरसा मुंडा केंद्रीय कारागार में 10 बंदी इस बार छठ का व्रत कर रहे हैं। इनमें से छह सजायाफ्ता हैं और चार विचाराधीन बंदी हैं। ये बंदी भगवान सूर्य काे अर्घ्यअर्पित करेंगे। इन छठ व्रतियों में हत्या के आरोप में सजा काट रहीं पांच महिलाएं और एक पुरुष कैदी हैं जो छठ की तैयारी में जुटे हैं। इन सभी कैदियाें के लिए पूजा की व्यवस्था जेल प्रशासन की ओर से की जा रही है।

जेल में ही छठ तालाब तैयार किया गया है

इस महापर्व को मनाने को लेकर छह कैदियों और चार बंदियों ने जेल प्रशासन से अनुमति मांगी थी। जेल प्रशासन से इनकाे छठ पूजा करने की अनुमति मिल गई है। इन लोगों के लिए जेल में ही छठ तालाब तैयार किया गया है। साथ ही छठ घाट पर सभी तरह के इंतजाम किए जा रहे हैं। छठ व्रतधारियों को किसी तरह की कोई दिक्कत नहीं हो, इसके लिए जेल प्रशासन पूरा इंतजाम कर रहा है। जेल के अन्य कैदी भी जेल में छठ पूजा के लिए जल कुंड आदि तैयार करने में पूरी मदद कर रहे हैं।

जेल प्रशासन ने उपलब्ध कराये फल और पूजन सामग्री

जेल प्रशासन की ओर से व्रत करने वाले कैदियों और बंदियाें काे फल के अलावा पूजन सामग्री उपलब्ध कराई गई है। सोमवार को छठ व्रतधारियों को जेल में लौकी आदि उपलब्ध कराई गई ताकि वो लोग लौकी भात का भोग लगा सकें। इन कैदियों और बंदियाें के लिए खरना का प्रसाद बनाने में इस्तेमाल हाेने वाले सभी सामान की व्यवस्था जेल प्रशासन की ओर से ही की जा रही है। छठ महापर्व को लेकर जेल के अंदर सभी धर्म-समुदाय के कैदियाें और बंदियाें ने मिलकर साफ-सफाई की। जेल के अंदर बने जिस तालाब में अर्घ्य देना है, उसकी भी साफ-सफाई कर उसमें पानी भरा गया है।

छठव्रतियों काे अलग वार्ड में किया गया शिफ्ट

छठ पर्व करने वाली सभी महिलाओं और पुरुषों काे अलग-अलग वार्ड में शिफ्ट कर दिया गया है। छठ करने वाली सभी महिलाओं और पुरुष बंदियों काे एक वार्ड में जबकि एक  पुरुष काे अकेले ही पुरुष वार्ड में रखा गया है। जेल के वार्ड में ही इन छठ व्रतियों काे स्वयं से खरना का प्रसाद बनाने की व्यवस्था की गई है। जेल के वार्ड को साफ-सफाई करने के बाद सजाया गया है। अलग वार्ड में शिफ्ट हाेते ही छठ व्रतियों ने कद्दू-भात का प्रसाद बनाने के दाैरान साेमवार काे छठ गीत भी गाए।

ये भी पढ़ें : Chhath Parv 2021: खरना आज, जानें इसका महत्व और पूजन विधि

 

Related posts

JAC Board 12th का Result जारी, यहां Click कर देखें परिणाम

Sumeet Roy

UP Election : सोशल इंजीनियरिंग मायावती को फिर दिलायेगी सत्ता! ब्राह्मणों के बाद नजर क्षत्रियों पर

Pramod Kumar

किसके पक्ष में यूपी के ब्राह्मण, बहन की ‘माया’ में फंसेंगे या भाजपा का देंगे साथ

Sumeet Roy

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.