समाचार प्लस
Breaking देश फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर

Charles Sobhraj Release: ‘बिकिनी किलर’ जिसका कई मुल्क की पुलिस को था इंतजार, दो दशक बाद जेल से आया बाहर

image source : social media

नेपाल की सेंट्रल जेल में 19 वर्षों से बंद सीरियल किलर चार्ल्स शोभराज (Charles Sobhraj) पूरा नाम  हतचंद भाओनानी गुरुमुख चार्ल्स शोभराज आज नेपाल की सेंट्रल जेल से रिहा (Release) कर दिया गया। उसे नेपाल की सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court of Nepal) ने बढ़ती उम्र के मद्देनजर रिहा करने का आदेश दिया था। साथ ही रिहाई के 15 दिन के अंदर उसे उसके देश फ्रांस भेजने का भी आदेश है। गौरतलब है कि शोभराज(Charles Sobhraj)  को दो अमेरिकी पर्यटकों की हत्या के लिए 2003 से ही नेपाल की जेल में बंद रखा गया था।

image source : social media
image source : social media

चार्ल्स शोभराज (Charles Sobhraj) की पत्नी निहिता बिस्वास ने कहा कि वे इसी शाम चार्ल्स को फ्रांस में उसके परिवार के पास भेजने की कोशिश कर रही हैं। उन्होंने कहा कि हार्ट सर्जरी के बाद उसे कुछ दिक्कतें आई हैं। चार्ल्स को एक और सर्जरी की जरूरत पड़ सकती है।

दर्जनों हत्याओं, चोरी और धोखाधड़ी के कई मामलों में रहा है शामिल 

चार्ल्स शोभराज दर्जनों हत्याओं, चोरी और धोखाधड़ी के कई मामलों में शामिल रहा है और उसकी भारत, ग्रीस समेत दक्षिण एशियाई के कई देशों में अलग-अलग मामलों में तलाश रही है। हालांकि चार्ल्स को 2003 में नेपाल यात्रा के दौरान दो विदेशी पर्यटकों की हत्या के आरोप में गिरफ्तार किया गया था और उम्रकैद की सजा सुनाई गई थी। नेपाल में एक उम्रकैद के तहत 20 सालों की सजा का प्रावधान है।

image source : social media
image source : social media

2003 से नेपाली जेल में सजा काट रहा था शोभराज

द बिकिनी किलर और द सर्पेंट (The Serpent) के नाम से कुख्यात शोभराज 1975 में नेपाल में अमेरिकी महिला कोनी जो ब्रोंजिच की हत्या के दोष में 2003 से काठमांडू जेल में उम्रकैद की सजा काट रहा था। वहीं, 2014 में शोभराज को कनाडाई नागरिक लॉरेंन कैरी की हत्या का दोषी करार देते हुए उम्रकैद की दूसरी सजा सुनाई गई। नेपाल में उम्रकैद का सामान्य अर्थ 20 साल का कारावास होता है।

फिल्मी अंदाज में जेल से हुआ था फरार

शोभराज भारत में 21 साल जेल की सजा काट चुका है। 1971 में वह बीमारी का बहाना करके जेल से अस्पताल गया और वहां से फरार हो गया। 1976 में उसे दोबारा गिरफ्तार किया गया लेकिन 1986 में वह एक बार फिर ‘फिल्मी अंदाज’ में जेल से भाग गया। साल 1986 में शोभराज ने जेल में बर्थडे पार्टी रखी और गार्ड्स को अंगूर और बिस्किट बांटे गए जिसमें नींद की दवा मिली हुई थी। कुछ ही देर में सभी बेहोश हो गए और शोभराज अपने साथियों के साथ जेल से भागने में सफल हो गया।

image source : social media
image source : social media

नेपाल की निहिता बिस्वास से शादी की थी

चार्ल्स शोभराज ने नेपाल की रहने वाली निहिता बिस्वास (Nihita Biswas) से शादी की थी। चार्ल्स और निहिता की  पहली मुलाकात नेपाल में ही हुई थी। चार्ल्स को जेल में एक ट्रांसलेटर की जरूरत थी और इसी सिलसिले में दोनों की मुलाकात भी हुई थी। तब निहिता को लगता थआ कि चार्ल्स शोभराज बेकसूर है। उस पर लगे इल्जाम गलत हैं।धीरे-धीरे दोनों की नजदीकियां बढीं और निहिता को चार्ल्स से प्यार हो गया और दोनों ने शादी कर ली। निहिता शादी के वक़्त मात्र  21 साल की थी, जबकि चार्ल्स उससे दोगुनी उम्र का था.  शादी में दोनों की उम्र के अंतर से भी निहिता चर्चा में रही। इसके बाद निहिता बिग बॉस 5 में दिखाई दी थीं, लेकिन पहले ही शो से बाहर हो गईं।

image source : social media
image source : social media

इसलिए कहा जाने लगा बिकिनी किलर 

शोभराज कई भाषाएं बोलने और वेश बदलने में माहिर था। माना जाता है कि 1970 के दशक में उसने 15 से 20 लोगों को मारा। उसके ज्यादातर शिकार एशिया में पश्चिमी पर्यटक थे। उसने थाईलैंड में छह महिलाओं को ड्रग्स देकर उनकी हत्या कर दी थी. मारी गई इन सभी लड़कियों ने बिकिनी पहन रखी थी। चार्ल्स शोभराज ने अधिकतर विदेशी महिलाओं को ही अपना शिकार बनाया और उनसे लूट के बाद उनकी हत्या कर दी। इसके बाद से ही वह बिकिनी किलर (Bikini Killer) के नाम से जाना जाने लगा।

ये भी पढ़ें : “मास्क पहनें, टेस्टिंग और जीनोम सीक्वेंसिंग बढ़ाएं”, PM Modi ने रिव्यू मीटिंग में Corona को लेकर दिए निर्देश

 

Related posts

Whatsapp New Features: स्क्रीनशॉट ब्लॉक से लेकर ऑनलाइन स्टेटस छुपाने तक, व्हाट्सएप पर आ रहे ये कमाल के फीचर्स

Sumeet Roy

Armed Forces Flag day : सशस्त्र सेना झंडा दिवस पर CM Hemant Soren ने सैनिकों के कल्याण के लिए किया अंशदान

Manoj Singh

RIMS : डॉक्टर उमेश प्रसाद का निधन, चिकित्सा जगत में शोक की लहर

Manoj Singh