समाचार प्लस
Breaking देश फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर राजनीति

C Voter Survey: अगले पीएम के तौर पर कितने फीसदी लोगों की पसंद हैं PM मोदी, सर्वे में आया सामने

image source : social media

India Today C Voter Survey: भारतीय जनता पार्टी के नेतृत्व वाला NDA लोकसभा चुनाव से दो साल से भी कम समय पहले केंद्र में फिर से सरकार बनाने के लिए मतदाताओं की पहली पसंद बने हुए हैं। साथ ही नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) 2024 में प्रधानमंत्री के रूप में सबसे लोकप्रिय विकल्प बने हुए हैं, सीवोटर-इंडिया टुडे मूड ऑफ द नेशन सर्वेक्षण (CVoter-India Today Mood of the Nation Survey) से पता चला है।

अमित शाह और सीएम योगी आदित्यनाथ को उत्तराधिकारी के रूप में देख रहे लोग 

बीजेपी में पीएम नरेंद्र मोदी(PM Narendra Modi) के उत्तराधिकारी के रूप में लोग गृहमंत्री अमित शाह(Amit Shah) और सीएम योगी आदित्यनाथ(Yogi Adityanath) को देख रहे हैं।सर्वे में लोगों से पूछा गया कि बीजेपी में पीएम नरेंद्र मोदी का उत्तराधिकारी कौन है? इस सवाल पर अमित शाह को 25 फीसदी, योगी आदित्यनाथ को 24 फीसदी, नितिन गडकरी को 15 फीसदी, राजनाथ सिंह को 9 फीसदी और निर्मला सीतारमण को 4 फीसदी लोगों ने वोट किया।

image source : social media
image source : social media

PM के लिए अब भी 53% लोगों की पसंद नरेंद्र मोदी

53 फीसदी लोग एक बार फिर से पीएम नरेंद्र मोदी को ही देश का पीएम बनते देखना चाहते हैं। इंडिया टुडे और सी-वोटर की ओर से किए गए सर्वे में यह बात सामने आई है। सर्वे में 53 फीसदी लोगों ने पीएम मोदी को अपनी पसंद बताया तो कांग्रेस के राहुल गांधी को 9 फीसदी लोग ही पीएम देखना चाहते हैं। तीसरे नंबर पर अरविंद केजरीवाल हैं, जिन्हें 7 प्रतिशत लोगों ने अपनी पसंद बताया है।

लोगों ने गिनाई पीम मोदी की उपलब्धि 

सर्वे में शामिल 25 फीसदी लोगों ने माना है कि केंद्र सरकार की बड़ी उपलब्धि है कि उसने कोरोना का अच्छे से मैनेजमेंट किया। इसके अलावा 14 फीसदी लोगों ने आर्टिकल 370 के खात्मे को एनडीए सरकार की उपलब्धि माना है। 8 फीसदी लोग ऐसे हैं, जो विश्वनाथ कॉरिडोर और राम मंदिर को भी मोदी सरकार की उपलब्धि माना है।

आज हुए चुनाव तो फिर NDA सरकार

यदि आज ही लोकसभा के चुनाव हों तो किसकी सरकार बनेगी, के सवाल पर लोगों की राय है कि आज चुनाव होने की स्थिति में भी मोदी की सरकार ही बनेगी। देश भर में 41.4 फीसदी वोट एनडीए को मिल सकते हैं। इसके अलावा 28.1 फीसदी वोट यूपीए के खाते में जा सकते हैं। वहीं अन्य के खाते में यूपीए से थोड़ा अधिक 30.6 फीसदी वोट जा सकते हैं। सीटों के आंकड़े की बात करें तो 1 अगस्त, 2022 को किए गए सर्वे के मुताबिक एनडीए को 307 सीटें मिल सकती हैं। इसके अलावा यूपीए को 125 और अन्य को 111 मत मिल सकते हैं।

image source : social media
image source : social media

नीतीश की पलटी से बिहार में हो सकता है 21 सीटों का नुकसान

हालांकि बिहार में हुए ताजा राजनीतिक घटनाक्रम के बाद भाजपा और एनडीए का ग्राफ थोड़ा गिरा है। मूड ऑफ द नेशन सर्वे के मुताबिक एनडीए को मौजूदा स्थिति में 286 सीटें मिल सकती हैं। यानी बिहार में नीतीश के पालाबदल से उसे 21 सीटों का नुकसान हो सकता है। इसके अलावा यूपीए के खाते में 146 सीटें जा सकती हैं। इसके अलावा अन्य दलों के खाते में 111 सीटें जा सकती हैं। साफ है कि गैर-भाजपा और गैर-कांग्रेस दलों के खाते में भी इस बार के लोकसभा चुनाव में अच्छी खासी सीटें जा सकती हैं।

ये भी पढ़ें : ‘देश में नीतीश बा’ क्या सच हो पायेगा यह सपना, सुशासन बाबू अपनी आखिरी पारी में क्या कर पायेंगे चमत्कार?

 

Related posts

Doctors Strike: आज निपटा लें सभी जरूरी काम, कल देशभर में बंद रहेंगी स्वास्थ्य सेवाएं; डॉक्टरों के खिलाफ FIR दर्ज

Manoj Singh

स्वतंत्रता दिवस कार्यक्रम में विशेष अतिथि होंगे ओलंपिक खिलाड़ी, PM मोदी लाल किले पर करेंगे आमंत्रित

Manoj Singh

UGC: अब बिना NET- PhD के भी बन सकेंगे प्रोफेसर, इस तरह होगी सीधी नियुक्ति

Manoj Singh