समाचार प्लस
Breaking खेल टोक्यो ओलंपिक(Tokyo Olympic) फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर

Tokyo Olympics : भारत का एक और पदक पक्का, मुक्केबाज Lovlina इतिहास रचने के करीब

lovlina

Tokyo Olympics : मुक्केबाज Lovlina ने भारत का एक और पदक पक्का कर लिया है। Lovlina 69 किलो भारवर्ग में चीनी ताइपे की निएन चिन चेन को हरा सेमीफाइनल में प्रवेश किया है। कम से कम भारत का कॉस्य पदक तो पक्का हो गया है, लवलीना के पास गोल्ड या सिल्वर जीतने का भी अवसर है। वेटलिफ्टर मीराबीई चानू के बाद लवलीना दूसरी खिलाड़ी होंगी जो भारत के लिए कोई मेडल जीतेंगी।

पहली बार ओलंपिक में उतरी असम की बॉक्सर Lovlina बोरगोहेन का क्वार्टर फाइनल में चीनी ताइपे की बॉक्सर निएन चिन चेन को 4-1 से हराया। पहले राउंड में उन्हें बाई मिली थी, जबकि राउंड-16 के मुकाबले में उन्होंने जर्मनी की  35 साल की मुक्केबाज नेदिने एपेट्ज को 3-2 से हराया था।

सेमीफाइल में मुकाबला तुर्की की एना लाइसेंको से

लवलीना का सेमीफाइनल में तुर्की की एना लाइसेंको से मुकाबला होगा। बता दें, लाइसेंको 2019 की वर्ल्ड चैंपियन हैं। लवलीना बोरगोहेन विश्व चैंपियनशिप में दो और एशियाई चैंपियनशिप में एक बार कांस्य पदक जीत चुकी हैं। लवलीना से एमसी मैरीकॉम ने 2012 लंदन ओलंपिक में ब्रॉन्ज मेडल जीता था। ओलंपिक इतिहास में भारत की दो महिला बॉक्सर ही मेडल जीत सकी हैं।

पूजा रानी भी पदक की रेस में

एमसी मैरीकॉम के स्पर्द्धा से बाहर होने के बाद सिमरनजीत कौर की भी ओलंपिक से विदाई हो गयी हैं। 60 किलोग्राम वजन वर्ग में भारतीय मुक्केबाज सिमरनजीत कौर को थाईलैंड की सुदापोर्न सीसोंदी से हरा दिया। लवलीना के अलावा एक और भारतीय महिला बॉक्सर पूजा रानी मेडल की रेस में बनी हुई हैं। पूजा रानी का 31 जुलाई को क्वार्टर फाइनल में चीन की कियान ली से मुकाबला है। भारत की 4 महिला खिलाड़ियों ने ओलंपिक के लिए क्वालिफाई किया था।

इसे भी पढ़ें : Tokyo Olympic से बाहर हुईं विश्व चैंपियन Mary Kom

 

Related posts

Bihar Politics : बिहार के सियासी पिच पर क्या लालू ला पाएंगे हरियाली?

Manoj Singh

Jharkhand को लू के थपेड़ों से मिलेगी राहत, रांची समेत कई जिलों में 29 से बदलेगा मौसम

Pramod Kumar

Solar Eclips: आज रात 2022 का पहला सूर्यग्रहण, इस साल शनि अमावस्या का बना है अद्भुत संयोग

Pramod Kumar