समाचार प्लस
Breaking देश फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर मनोरंजन

Birthday Special : 17 की उम्र में शान को मिला था फिल्म में गाने का मौका,जानें उनकी जिंदगी से जुड़ी ये खास बातें

17 की उम्र में शान को मिला था फिल्म में गाने का मौका,

न्यूज़ डेस्क/समाचार प्लस झारखंड -बिहार
अपनी आवाज से लोगों की दीवाना बनाने वाले सिंगर शान (Happy Birthday Shaan) का आज जन्मदिन है। वह आज पूरे 59 साल के हो चुके हैं। शान का जन्म 30 सितम्बर 1972 में मध्यप्रदेश के खंडवा में हुआ था। उनका पूरा नाम शांतनु मुखर्जी है।

बहन सागरिका भी गायिका हैं

शान के दादा एक मशहूर गीतकार जहर मुखर्जी थे। वहीं उनके पिता स्वर्गीय मानस मुखर्जी एक संगीत निर्देशक थे और उनकी बहन सागरिका भी एक गायिका हैं। घर में शुरू से संगीत का माहौल होने के कारण शान का बचपन से ही संगीत की तरफ रुझान रहा था। उन्होंने  4 साल की उम्र में गाना शुरू कर दिया है। शुरुआत में शान विज्ञापनों के लिए जिंगल गाते थे। बॉलीवुड में उन्होंने 17 साल की उम्र में अपने करियर की शुरुआत की थी।

‘भूल जा’ और ‘तन्हा दिल’ से मिली असली पहचान

शान और उनकी बहन सागरिका ने पहली बार एक म्यूजिक कंपनी के लिए गाने गाए। इनमें कुछ रीमिक्स गाने भी शामिल हैं। बहन के साथ शान की यह एलबम हिट साबित हुई, लेकिन वह अपनी एलबम लव-ऑलॉजी से काफी चर्चा में आने लगे। शान को असली पहचान उनके लिखे गाने ‘भूल जा’ और ‘तन्हा दिल’ से मिली थी। उनके यह दोनों गानें 1999 में रिलीज हुए थे। इसके बाद शान ने कभी पूछे मुड़कर नहीं देखा।

इन कलाकारों को दी अपनी आवाज

शान ने शाहरुख खान, सलमान खान, अजय देवगन, सैफ अली खान, आमिर खान, ऋतिक रोशन, अक्षय कुमार, शाहिद कपूर, रणबीर कपूर, अभिषेक बच्चन और आर माधवन सहित अन्य कलाकारों को अपनी आवाज दी है। 24 साल की उम्र में शान की मुलाकात बिजनेसमैन फैमिली से ताल्लुक रखने वाली राधिका मुखर्जी से हुई थी। दोनों ने साल 2003 में शादी कर ली। कपल के दो बेटे सोहम और शुभ हैं।

टेलीविजन होस्ट भी रह चुके हैं शान

शान ने न केवल हिंदी बल्कि बंगाली, मराठी, उर्दू, तेलुगु और कन्नड़ भाषा में गाने गाए हैं। इसके साथ ही वो एक टेलीविजन होस्ट भी हैं। उन्होंने टीवी पर ‘सारेगामापा’, ‘सारेगामापा लिटिल चैम्प्स’, ‘स्टार वॉयस ऑफ इंडिया’ और ‘म्यूजिक का महामुकबला’ सहित कई अन्य शोज होस्ट किए हैं।

 

ये भी पढ़ें : नये राजनीतिक मोड़ पर कैप्टन अमरिंदर, अमित शाह से 40 मिनट लंबी चली बैठक के मायने?

Related posts

Coal Crisis : झारखंड में गहराया बिजली संकट, क्या पर्व पर पसरेगा ‘अंधेरा’!

Manoj Singh

Covid-19: 40 हजार से नीचे आये नये केस, लगातार दूसरे दिन केरल में घटा संक्रमण

Pramod Kumar

Congress का व्यवहार दुर्भाग्यपूर्ण, मानसूत्र सत्र में जानबूझकर डाल रही अड़ंगा : PM Modi

Sumeet Roy