समाचार प्लस
Breaking अपराध बिहार वैशाली

Bihar: जब घर वाले ही बने जायें हत्यारे, तब कैसे सुरक्षित रहें मासूम और महिलाएं

Bihar

न्यूज डेस्क/ समाचार प्लस – झारखंड-बिहार

बिहार में मासूमों और महिलाओं को अपने और अपने आस-पास के लोगों के खतरा है। कटिहार, खगड़िया और हाजीपुर से आयी तीन हत्याओं की सनसनीखेज वारदातों के बाद ऐसा ही कहा जा सकता है। जहां कटिहार में एक दुधमुंही बच्ची की हत्या का आरोप उसकी दादी पर लगा है, वहीं, खगड़िया में एक महिला की हत्या उसके परिवार वालों ने दहेज की खातिर कर दी। जबकि हाजीपुर में एक मासूम की चाकुओं से गोल कर हत्या का मामला सामने आया है।

कटिहार के आजमनगर में दुधमुंही की पानी की टंकी में डाल कर हत्या

कटिहार से हमारे संवाददाता रितेश रंजन की रिपोर्ट के अनुसार, आजमनगर थाना क्षेत्र में एक चार महीने की दुधमुंही मासूम की हत्या से इलाके में सनसनी फैल गयी। मृत बच्ची की मां ने बच्ची की सगी दादी पर ही हत्या का आरोप लगाया है। घटना के बारे में बताया जा रहा है कि बच्ची की मां बच्ची को झूले में छोड़ दूध लाने गयी थी। बीच घर में कथित तौर पर उसकी दादी ने बच्ची को पानी की टंकी में डाल मोटर चला कर उसकी हत्या कर दी। मृतक की मां घर लौटने पर जब बच्ची को नहीं देखा तो काफी खोजबीन के बाद बच्ची का शव पानी की टंकी में पाया गया। घटना के बाद जिला इलाके में कई तरह की चर्चाएं हो रही हैं। हत्या की वजह सास-बहू का आपसी विवाद बताया जा रहा है। फिलहाल, पुलिस मौके पर पहुंचकर मामले की छानबीन कर रही है। मृत बच्ची की दादी को हिरासत में लेकर पुलिस आगे की जांच में जुट गई है।

महिला सिपाही को दहेज के लिए ससुराल वालों ने मार डाला

बिहार की नीतीश कुमार सरकार महिलाओं के सशक्तीकरण को लेकर लगातार नये प्रयोग और दावे करती रहती है, लेकिन जमीनी हकीकत यही है कि महिलाएं अपने घरों में भी सुरक्षित नही हैं। खगड़िया से हमारे संवाददाता राजीव कुमार की रिपोर्ट के अनुसार, ताजा मामले में बिहार पुलिस की एक महिला सिपाही की हत्या उसके ससुराल वालों ने ही कर दी। मृतक महिला सिपाही के मायके वालों ने एसपी से न्याय की गुहार लगायी है।

भागलपुर की प्रतीक्षा कुमारी महिला सिपाही के पद पर BMP-2 डेहरी ऑन सोन, रोहतास में कार्यरत थी। वह दिवाली के मौके पर अपने ससुराल मड़ैया थाना इलाके के अरैया गांव आयी थी। मृतक महिला सिपाही का पति अंकित कुमार फौजी है और उसकी पोस्टिंग इस वक्त झांसी में है। वह भी दिवाली पर घर आया हुआ था। जानकारी के अनुसार, मृतक महिला सिपाही से उसके पति समेत ससुराल वाले हमेशा पैसों की मांग किया करते थे। वे प्रतीक्षा पर अपनी पूरी सैलरी उन्हें दे देने का भी दबाव बनाते रहते थे। दीपावली के मौके पर प्रतीक्षा से उसके ससुराल वालों ने बुलेट की मांग की जिसका उसने विरोध किया। इन्हीं सब बातों को लेकर हमेशा उसका पति और ससुराल के अन्य लोग उसके साथ मारपीट करते थे। प्रतीक्षा बीच-बीच में इसकी जानकारी अपने मायके वालों को देती रहती थी। इसी बीच दीपावली के दिन ससुराल वालों ने मिलकर प्रतीक्षा की हत्या कर दी। ग्रामीणों के द्वारा इसकी सूचना प्रतीक्षा के मायके वालों को दी गयी जिसके बाद मायके वालों ने शव के साथ डीएसपी कार्यालय का घेराव किया जिसके बाद डीएसपी ने इस मामले में कार्रवाई का भरोसा दिया।

हाजीपुर: मासूम की जान का दुश्मन कौन ?

हाजीपुर से संवाददाता अभिषेक कुमार की रिपोर्ट के अनुसार, 7वीं कक्षा में पढ़ने वाले 10 साल के मासूम की हत्या के बाद पुलिस सकते में  है। बेहद गरीब परिवार के मासूम की चाकुओं से गोद कर निर्मम हत्या की गयी है। वारदात महुआ थाने के सिंघारा उत्तरी पंचायत की है। दिवाली के दिन से गायब मासूम का शव अगले दिन घर से कुछ दूर एक बंद फैक्ट्री में मिला है। शव पर चाकुओ से वार के कई निशान मिले हैं। पुलिस ने शव के पास ही एक चाकू भी बरामद किया है। हत्या की इस निर्मम वारदात के बाद इलाके के लोग सकते में हैं। मौके पर स्थानीय विधायक भी पहुंचे और वारदात को लेकर नाराजगी जाहिर की।

हत्या की निर्मम वारदात के बाद पुलिस टीम के साथ SP और महुआ SDPO जांच करते दिखे। वारदात की वजहों और हत्यारों की तलाश के लिए डॉग स्क्वाड की टीम को भी बुलाया गया है। मृतक विशाल के पिता मजदूर हैं जो असम में मजदूरी करते हैं, जबकि मासूम बच्चा अपने दो भाई-बहनों के साथ अपनी मां के साथ गांव में रहता था।

यह भी पढ़ें: Spurious Liquor : बिहार में शराबबंदी! कहां हो रही सुशासन बाबू से चूक

Related posts

Ravan Dahan: गुणों की खान भी है बुराई का प्रतीक रावण, भारतीय मानस में रचे बसे हैं दशानन रचित शास्त्र

Pramod Kumar

फादर स्टेन स्वामी की याद में आयोजित शोकसभा में पहुंचे सीएम, पौधरोपण कर दी श्रद्धांजलि

Pramod Kumar

6th JPSC Exam: छठी जेपीएससी की मेरिट लिस्ट को लेकर सुनवाई आज

Manoj Singh

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.