समाचार प्लस
Breaking अंतरराष्ट्रीय देश फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर

Bihar Raid: जेल अधीक्षक रामाधार सिंह के आवास पर विजिलेंस की छापेमारी, आय से अधिक संपत्ति का मामला

Bihar Raid

Bihar Raid: भ्रष्ट अधिकारियों के आवास पर निगरानी विभाग की इन दिनों लगातार रेड पड़ रही है. इसी क्रम में निगरानी की विशेष टीम छपरा में जेल सुपरिटेंडेंट रामाधार सिंह के आवास पर छापेमारी के लिए पहुंची है. जहां आय से अधिक संपत्ति मामले में उनके घर पर छापेमारी जारी है.

छपरा के जेल सुपरिटेंडेंट रामाधार सिंह सरकारी नौकरी में रहते हुए करोड़पति बन गए हैं. आरोप है कि सरकारी पद का दुरुपयोग कर ये भ्रष्टाचार में लिप्त रहे हैं. इस बात के ठोस सबूत निगरानी अन्वेषण ब्यूरो की टीम को मिली. जिसके बाद गुरुवार को इनके खिलाफ पटना में आय से अधिक संपत्ति का केस दर्ज किया गया.

अब निगरानी की टीम ने इनके तीन ठिकानों पर एक साथ छापेमारी कर दी है. गुपचुप तरीके से प्लान वे में निगरानी की अलग-अलग टीम ने आज सुबह 10:30 बजे के बाद छपरा, पटना और गया में एक साथ इस कार्रवाई को शुरू किया.

अलग-अलग टीम कर रही है छापेमारी

डीएसपी सुरेंद्र कुमार महुआर की अगुवाई में एक टीम छपरा में जेल सुपरिटेंडेंट रामाधार सिंह के सरकारी घर और ऑफिस को खंगाल रही है. जबकि, दूसरी टीम पटना में जक्कनपुर थाना के तहत पुरन्दुपुर इलाके के अपार्टमेंट में स्थित फ्लैट और तीसरी टीम गया जिले में स्थित पुश्तैनी घर को खंगाल रही है.

निगरानी मुख्यालय के अनुसार जेल सुपरिटेंडेंट के ऊपर सरकारी सैलरी के अलावा, मतलब आय से 1.21 करोड़ रुपए अधिक की काली कमाई करने का गंभीर आरोप लगा है. इनके बारे में काफी शिकायतें थीं. काले कारनामों के बारे में एक के बाद एक कई शिकायत मिलने पर निगरानी की टीम एक्टिव हो गई थी.

वहीं अभी हाल में ही पटना के तत्कालीन मोटरयान निरीक्षक मृत्युंजय कुमार सिंह और वकील प्रसाद के ठिकानों पर छापा पड़ा था. जहां अवैध बालू खनन के मामले को लेकर छापेमारी की गई थी. फिलहाल जेल अधीक्षक रामाधार सिंह के आवास पर रेड चल रहा है.

ये भी पढ़ें – झारखंड कर्मचारी चयन आयोग की परीक्षाओं में मगही, भोजपुरी भाषाओं को भी मिली प्राथमिकता

Bihar Raid

Related posts

लालू यादव ने की जातिगत जनगणना की मांग, बोले- बहुसंख्यक का भला नहीं, आंकड़ों का क्या अचार डालेंगे

Manoj Singh

उत्तराखंड: बेबी रानी मौर्य ने छोड़ा राज्यपाल का पद, राष्ट्रपति कोविंद को सौंपा इस्तीफा

Manoj Singh

Jharkhand: हेमंत सरकार अंग्रेजों से भी ज्यादा अत्याचारी सरकार, भाजपा अजा मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष अमर बाउरी का आरोप

Pramod Kumar