समाचार प्लस
Breaking फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर बाँका

Bihar News : तारापुर व कुशेश्वरस्थान में 49 प्रतिशत मतदान, दो दिन बाद परिणाम

Bihar News : तारापुर व कुशेश्वरस्थान में 49 प्रतिशत मतदान

न्यूज़ डेस्क/ समाचार प्लस झारखंड बिहार
Bihar News : बिहार विधानसभा की दो सीटों पर शनिवार को शांतिपूर्ण तरीके से मतदान संपन्न हुआ। सीईओ (मुख्य निर्वाचन अधिकारी) बिहार एचआर श्रीनिवास और एडीजी पुलिस मुख्यालय जितेंद्र सिंह गंगवार ने बताया कि कुशेश्वरस्थान में 49 प्रतिशत और तारापुर में 50.05 प्रतिशत वोट पड़े। दोनों सीटों को मिलाकर कुल 49.59 प्रतिशत जनता ने मताधिकार का प्रयोग किया।

दरभंगा के कुशेश्वरस्थान (अजा) सीट में महिलाओं की संख्‍या ज्‍यादा है। महिलाओं का वोट प्रतिशत 46.9 है जबकि पुरुषों का 44.7 है।

 वोटिंग को लेकर मतदाताओं में दिखा उत्साह

बिहार विधानसभा उपचुनाव के लिए सुबह 7 बजे से वोटिंग शुरू हो गई थी । यहां मताधिकार का इस्तेमाल करने के लिए उत्साहित नजर आ रहे थे । सुबह से ही पोलिंग बूथ पर पहुंचने लगे। तारापुर सीट के मतदाताओं को अपने मताधिकार का प्रयोग करने के लिए कुल 406 मतदान केंद्र बनाए गए थे।

उपचुनाव में महगठबंधन में पड़ी फूट

इस उपचुनाव में मुख्य मुकाबला राष्ट्रीय जनता दल (राजद) और जनता दल (युनाइटेड) के बीच माना जा रहा है। इस चुनाव में सत्ताधारी गठबंधन जदयू के पक्ष में एकजुट है, वहीं विपक्षी दलों के महागठबंधन में फूट पड़ गई है। कांग्रेस और राजद दोनों पार्टियों ने दोनों सीटों पर अपने प्रत्याशी उतार दिए हैं। जमुई से सांसद चिराग पासवान की पार्टी लोक जनशक्ति पार्टी (रामविलास) भी अपने प्रत्याशी उतारे हैं , जिससे उपचुनाव काफी रोचक बना हुआ है। वैसे, कहा जा रहा है कि इस चुनाव परिणाम का फिलहाल सरकार पर कोई असर नहीं पड़ने वाला है।

ये भी पढ़ें :  Godda : CM हेमन्त सोरेन मंदिर के प्राण- प्रतिष्ठा कार्यक्रम में शामिल हुए, कहा – मंदिर मस्जिद -गुरुद्वारा -चर्च किसी एक मजहब और तबके का नहीं

 

Related posts

Drugs case: NCB अब ड्रग्स पैडलर को सामने बैठाकर अनन्या पांडे से करेगी पूछताछ?

Pramod Kumar

DMK नेता ने बिहार के लोगों पर की नस्लीय टिप्पणी, बोले- हमारी नौकरियां छीन रहे ‘कम दिमाग’ वाले लोग

Manoj Singh

Google Doodle: आज Google मना रहा है Pizza Day, यहां देखें 11 लोकप्रिय पिज्जा मेन्यू

Manoj Singh

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.