समाचार प्लस
Breaking फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर बिहार

Bihar: गिद्ध के शरीर पर लगा चिप देख हड़के वन अधिकारी, फिर क्या हुआ?

Bihar: Forest officials were agitated after seeing the chip on the body of the vulture, what happened then?

दरभंगा से वीरेन्द्र कुमार की रिपोर्ट/ समाचार प्लस – झारखंड-बिहार

बिहार के दरभंगा में सोमवार को एक बड़ी ही दिलचस्प घटना देखने को मिली। दरअसल, एक गिद्ध मिला जिसके शरीर पर सेंसर लगा हुआ था। इस गिद्ध को देखर दरभंगा में सनसनी फैल गयी और तरह-तरह की बातें होने लगीं। दरभंगा के वनपाल ने तो संदिग्ध गिद्ध को देख संदेह जताते हुए यहा तक कह दिया कि यह पड़ोसी मुल्क की चाल हो सकती।

मामला दरभंगा जिले के बहेड़ा थानाक्षेत्र के हावीभौआड़ गांव का है। जहां एक खेत में एक गिद्ध के शरीर पर सेंसर जैसा डिवाइस लगा देख इलाके में सनसनी फैल गयी। लोगों में कई प्रकार के  व्याप्त आशंकाओं के साथ ही तरह-तरह की चर्चाएं शुरू हो गयीं। कोई इसे पड़ोसी देश द्वारा जासूसी कराने से जोड़ कर देखने लगा तो कोई आशंका भरी निगाहों से इस बेजुबान गिद्ध को निहार रहा था।

गौरतलब है कि दरभंगा के हावीभौआड़ गांव की खेत मे एक गिद्ध अचानक गिर गया। इसकी जानकारी मिलते ही इलाके में सनसनी सी फैल गई और धीरे-धीरे गिद्ध को देखने ग्रामीण आने लगे। इसी दौरान लोगों ने देखा कि गिद्ध के शरीर पर गर्दन के ऊपर एक कैमरा और सेन्सर जैसा डिवाइस लगा है। इस अजूबे विलुप्त होते बेजुबान को देखने के लिए उक्त स्थल पर लोगों का हुजूम लगना शुरु हो गया।

ग्रामीणों से इसकी सूचना मिलने पर स्थानीय थाना वहां पहुंच कर गिद्ध मिलने और उनके ऊपर लगे यंत्र की सूचना तत्काल अपने उच्चाधिकारियों एवं वन विभाग को दिया। मौके पर वन विभाग कर्मी वहां पहुंच कर तत्काल गिद्ध को जाल से ढंक दिया और अपने वरीय पदाधिकारी को इसकी जानकारी दी।

बताया जाता है कि एक प्रत्यक्षदर्शी जब अपने खेत में धान की कटनी कर रहा था तो उसी दौरान उनकी नजर खेत के मेड़ पर पड़ी, जहां उन्होंने गिद्ध को देखा और उसके शरीर के ऊपर एक यंत्र लगा देखा। इस बात की सूचना उन्होंने ग्रामीणों को दिया। उसके बाद पुलिस को इसकी सूचना दी गयी।

क्या कहा वनपाल आरएन झा ने?

इधर इस संदिग्ध गिद्ध के मिलने की खबर से मौके पर पहुंचे वन विभाग के वनपाल आरएन झा ने पूरी घटना के बारे में बताते हुए कहा कि वन विभाग को बहेड़ा पुलिस के द्वारा सूचना मिली, जिसके बाद मौके पर पहुंचकर गिद्ध को जाल से ढंक कर उसे अपने कार्यालय लाया गया है। जिसके बाद उन्होंने आशंका जताते हुए कहा कि गिद्ध संदिग्ध है, यह पदोशी देश की चाल भी हो सकती है। उन्होंने बताया कि ये पाकिस्तान या नेपाल से भेजा जा सकता है जिसकी जांच की जा रही है।

क्या कहा एसएसपी अवकाश कुमार ने?

वही दरभंगा के एसएसपी अवकाश कुमार ने इस मामले पर मीडिया से बात करते हुए बताया कि यह वन विभाग का मामला है। वन विभाग द्वारा जानवरों एवं पशु पक्षियों के रहने का निवास स्थान और उसके लाइफ को मोनिटर करने के लिए इस तरह के यंत्र लगाए जाते है। एसएसपी ने बताया कि विलुप्त होते जीव की जनसंख्या को मोनिटर करने के लिए साथ ही उनकी जनसंख्या को बढ़ाने के लिए वन विभाग द्वारा ऐसा किया जाता है। यह उनकी नार्मल कार्यशैली है। विशेष वन विभाग से पता चलेगा।

यह भी पढ़ें:  Jharkhand: बाल दिवस पर मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन से बाल पत्रकारों का बेबाक सवाल-जवाब

Related posts

‘अग्निपथ’ पर ‘अग्निवीरों’ के लिए राज्यों का क्या है प्लान? कई राज्य अब तक कर चुके हैं बड़ी घोषणाएं

Pramod Kumar

Jharkhand: हेमंत सरकार अंग्रेजों से भी ज्यादा अत्याचारी सरकार, भाजपा अजा मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष अमर बाउरी का आरोप

Pramod Kumar

बड़े काम आयेगी झारखंड की मिथेन गैस, पाइप लाइन से पहुंचेगी रसोई में, रौशन करेगी देश, दौड़ेंगी गाड़ियां, रोडमैप तैयार

Pramod Kumar