समाचार प्लस
Breaking फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर बिहार राजनीति

Bihar Caste Based Sensus: सर्वदलीय बैठक में CM नीतीश कुमार का बड़ा फैसला, बिहार में होगी जातीय जनगणना

image source : social media

Bihar Caste Based Sensus: बिहार में जातीय जनगणना कराने के मुद्दे पर आज मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की अध्यक्षता में सर्वदलीय बैठक हुई. मुख्यमंत्री सचिवालय स्थित संवाद कक्ष में हुई.  बैठक में बिहार में किस तरीके से जातीय जनगणना कराई जाए और इसकी रूपरेखा क्या होगी, इन सभी विषयों पर सभी राजनीतिक दल ने अपना पक्ष रखा. सर्वदलीय बैठक में आम राय निकलकर सामने आया कि बिहार में जातीय जनगणना होगी.

“बड़े पैमाने पर कार्य होगा”

बिहार में जातीय जनगणना कराने के प्रस्ताव पर राज्य कैबिनेट की बैठक में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा है कि सर्वसम्मति से निर्णय लिया गया है कि बिहार में जातीय जनगणना होगी. उन्होंने कहा कि इसके लिए बड़े पैमाने पर कार्य होगा. साथ ही कार्य में लगे जाने वालों को विशेष ट्रेनिंग दी जाएगी.

कैबिनेट तय करेगी समय सीमा 

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि कैबिनेट से इसे पारित कराया जाएगा. इसकी समय सीमा क्या होगी, यह कैबिनेट के माध्यम से तय किया जाएगा. उन्होंने कहा कि विधानसभा में 9 दल हैं सभी से बात हुई है, और इस पर सभी ने सहमति जताई है.

”जातीय जनगणना का मकसद ही है सभी का विकास”

उन्होंने कहा कि जातीय जनगणना से जुड़े जो भी काम होंगे,  वह पब्लिक डोमेन में होगा, इसमें पूरी  पारदर्शिता बरती जाएगी. जातीय जनगणना का कार्य कैसे हो रहा है, इसे सभी जान पाएँगे. मुख्यमंत्री ने कहा कि गणना सभी की होगी. इससे लोगों को लाभ होगा. जातीय जनगणना का मकसद ही है सभी का विकास हो. सभी जाति, धर्म के लोगों के आंकड़े लिए जाएंगे.

ये भी पढ़ें : सोनिया-राहुल ED दफ्तर में हाजिर हों, ‘नेशनल हेराल्ड’ मामले में दोनों नेता तलब

Related posts

Jharkhand: खेलमंत्री और शिक्षा मंत्री के साथ JSCA का ‘खेल’, स्टेडियम में नहीं मिलेगी एंट्री

Manoj Singh

बड़ा हादसा: गुजरात के मोरबी में कारखाने की दीवार गिरी, 12 की मौत, 20 घायल

Pramod Kumar

US Survey in ‘Dawn’: 43% हिन्दू मानते हैं 1947 का बंटवारा हिन्दुओं-मुसलमानों के लिए सही

Pramod Kumar