समाचार प्लस
Breaking फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर बिहार राजनीति

बिहार उप चुनाव: तेजस्वी बोले- तारापुर और कुशेश्वरस्थान में ‘फ्रेंडली फाइट’, कांग्रेस बोली – ये ‘Friendly Fight’ क्या होता है?

तेजस्वी बोले- तारापुर और कुशेश्वरस्थान में 'फ्रेंडली फाइट'

न्यूज़ डेस्क/ समाचार प्लस झारखंड- बिहार

अक्सर राजनीतिक दल चुनाव के वक़्त गठबंधन बना लेते हैं, लेकिन दलों के राजनीतिक स्वार्थ के कारण गठबंधन फिर ताश के पत्तों की तरह बिखर जाता है। चुनाव के समय सीट एडजस्टमेंट की समस्या आने की स्थिति में राजनीतिक दल चुनाव पूर्व हुए समझौतों को भी दरकिनार कर देते हैं और अपने प्रत्याशियों की घोषणा कर देते हैं, और फिर उसे ‘फ्रेंडली फाइट’ का नाम दे देते हैं। लेकिन हकीकत में यह  दोस्ताना मुकाबला राजनीतिक स्वार्थ की पूर्ति की बुनियाद पर टिका होता है क्योंकि राजनीति में न तो किसी का कोई स्थायी दोस्त होता है और न ही स्थायी दुश्मन। बिहार में उप चुनाव को लेकर कुछ ऐसी ही स्थिति बनती नजर आ रही है।

रार थमती नहीं दिख रही

बिहार में 2 सीटों कुशेश्वर स्थान और तारापुर में होने वाले विधानसभा के उपचुनाव को लेकर महागठबंधन में शुरू हुई रार अब थमती नहीं दिख रही है। राजद ने दोनों सीट से अपना उम्मीदवार उतारने का ऐलान कर दिया। इसके बाद कयास लगाए जाने लगे हैं कि उपचुनाव में महागठबंधन बिखर सकता है। राजद के प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह पार्टी दफ्तर में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कुशेश्वरस्थान से गणेश भारती और तारापुर सीट से अरुण कुमार शाह के नाम का ऐलान प्रत्याशी के रूप में कर चुके हैं । अब कांग्रेस भी पीछे हटने के मूड में नहीं दिख रही।

तेजस्वी यादव ने ये दी सफाई 

कुशेश्वरस्थान और तारापुर में RJD के उम्मीदवार देने के फैसले पर मंगलवार को तेजस्वी यादव ने सफाई दी। उन्होंने कहा- ‘हमने अपने फैसले के बारे में पहले ही कांग्रेस प्रभारी भक्त चरण दास को बता दिया था।कांग्रेस को जानकारी देने के बाद ही हमने अपने उम्मीदवारों के नामों की घोषणा की। महागठबंधन में टूट के सवाल पर तेजस्वी ने कहा- ‘हम ‘फ्रेंडली फाइट’ के लिए तैयार हैं।’ हालांकि, वह इस सवाल पर चुप रहे कि कांग्रेस के साथ चुनाव प्रचार करेंगे कि नहीं।

 भड़क गई कांग्रेस

तेजस्वी के इस बयान पर कांग्रेस भड़क गई है। कांग्रेस ने इस पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा है वाट इज फ्रेंडली फाइट? कुशेश्वरस्थान की सीट हमारी है, हम लड़ेंगे।’ राजद के दोनों जगह से प्रत्याशी देने को लेकर कांग्रेस का कहना है कि वो भी दोनों जगह से उम्मीदवार उतार देंगे। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता प्रेमचंद मिश्रा ने टी तो यहां तक कह दिया है कि – ‘फ्रेंडली फाइट क्या होता है, फाइट तो फाइट होता है।’

सीटों के बंटवारे के स्वरूप उप चुनाव में भंग होने पर राजद ने साधी चुप्पी

राजद दोनों सीटों पर अपने उम्मीदवार की घोषणा कर चुकी है अब बारी कांग्रेस की है। पिछली बार कुशेश्वरस्थान की सीट कांग्रेस के खाते में गई थी, लेकिन इस बार राजद ने वहां से भी उम्मीदवार उतार दिया। RJD के बड़े नेताओं ने कभी यह साफ नहीं किया कि 2020 के विधानसभा चुनाव में महागठबंधन के अंदर हुए सीटों के बंटवारे के स्वरूप को उप चुनाव में क्यों भंग किया गया। कांग्रेस अगर कुशेश्वरस्थान से हार गई तो RJD भी तो तारापुर में हार गई थी।

ये भी पढ़ें : लापरवाही बरती तो फिर लगाना पड़ सकता है लॉकडाउन, तीसरी लहर पर ICMR की चेतावनी

Related posts

International Girl Child Day 2021: अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस आज, जानें इतिहास और उद्देश्य

Manoj Singh

Latehar: दो जेजेएमपी उद्रवादियों को पुलिस ने हथियारों के साथ गिरफ्तार कर भेजा जेल

Pramod Kumar

इमरान के ‘दोस्त’ के सलाहकार मलविंदर सिंह माली ने कश्मीर को बताया अलग देश

Pramod Kumar

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.