समाचार प्लस
Breaking फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर बिहार सीवान

Bihar: सिवान के पूर्व एमएलसी टुन्ना पांडेय मंगल पांडेय से हुए नाराज, ब्राह्मणों से कर रहे बहिष्कार की अपील

बिहार के सिवान से अभिषेक उपाध्याय की रिपोर्ट/समाचार प्लस – झारखंड-बिहार

सिवान के पूर्व एमएलसी टुन्ना पांडेय का एक वीडियो सामने आया है जिसमें वह जमकर स्वास्थ मंत्री मंगल पांडेय को लताड़ लगाते नजर आ रहे हैं। आपको बता दें कि एमएलसी का चुनाव होना है और यह दंगल इसी चुनाव को लेकर है। सिवान से टुन्ना पांडेय एनडीए से दो बार एमएलसी रहे हैं, लेकिन उन्होंने चुनाव नहीं लड़ने का फैसला किया है। सिवान में सोशल मीडिया पर टुन्ना पांडेय से पूर्व एनडीए एमएलसी और वर्तमान लोजपा नेता मनोज सिंह को एनडीए प्रत्याशी बनाए जाने की बात सामने आ रही है। इसी के बाद टुन्ना पांडेय का मंगल पांडेय के प्रति गुस्सा फूट पड़ा है।

पूर्व एमएलसी टुन्ना पांडेय ने स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय को चैलेंज देते हुए कहा कि वह खुद सिवान आकर एमएलसी का चुनाव लड़ लें। यह सीट उन्होंने ब्राह्मण के लिए छोड़ी थी, ऐसे में एनडीए को चाहिए कि वह किसी ब्राह्मण को चुनाव लड़ाये। स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय के पास पैसा है, कई बार मंत्री रह चुके हैं, ब्राह्मणों के नेता बनते हैं, लेकिन एमएलसी मनोनीत होते हैं। इसलिए मंगल पांडेय सिवान आकर एमएलसी का चुनाव लड़ें। टुन्ना पांडेय ने आगे कटाक्ष करते हुए कहा कि स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडे ने अपने पंचायत से अपने पिता को मुखिया का चुनाव नहीं जीता सके। वह ब्राह्मण नेता के रूप में छुपे ऐसे नेता हैं जिनके पास अपना 5 वोट नहीं हैं। उन्होंने ब्राह्मण समाज से यह अपील की कि मंगल पांडेय को बहिष्कार किया जाये।

पूर्व एमएलसी टुन्ना पांडेय ने नीतीश कुमार से हाथ जोड़कर यह आग्रह किया कि आप अपमानित होने वाले व्यक्ति नहीं थे। आप स्वाभिमानी व्यक्ति थे। आप कैसे भाजपा के द्वारा तिल-तिल अपमान होने के बावजूद उनके साथ हैं। टुन्ना पांडेय ने कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की केंद्रीय यूनिवर्सिटी, बिहार को विशेष राज्य का दर्जा, जातीय जनगणना की मांगों को बीजेपी ने ठुकरा कर उन्हें अपमानित किया है। उन्होंने नीतीश कुमार से आग्रह किया कि वे भाजपा को ठुकरा कर किसी अपने दल के साथ आएं और गठबंधन करें।

स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय पर निशाना साधते हुए टुन्ना पांडेय ने कहा कि जीतन राम मांझी ने जब ब्राह्मण समाज को अपमानित करने के लिए बयान दिया था तब अपनी कुर्सी बचाने के लिए मंगल पांडेय ने कोई प्रतिक्रिया नहीं दी, क्योंकि उन्हें डर था कि अगर वह कुछ बोलेंगे तो उनकी कुर्सी छिन जाएगी। सिवान में लगातार अपराध बढ़ रहा है, पहले बढ़ते अपराध को लेकर शहाबुद्दीन का नाम आता था कि शहाबुद्दीन ही अपराध कराते हैं, लेकिन अब शहाबुद्दीन नहीं है फिर भी अपराध बढ़ रहा है। लेकिन एनडीए के नेता इस पर मुंह नहीं खोल रहे हैं। सिवान में एक दाहा नदी पर पुल था जिसे तोड़ दिया गया, नया पुल बना जो बंद है। लेकिन इस पर भी मंगल पांडेय के द्वारा कुछ नहीं किया गया, सिवान के लिए उन्होंने कुछ नहीं किया है।

बता दें कि पूर्व एमएलसी टुना पांडेय सिवान से दो बार एमएलसी रह चुके हैं और उन्होंने यह प्रतिज्ञा की है कि जब तक शहाबुद्दीन परिवार से कोई सदन में नहीं जाता तब तक वह चुनाव नहीं लड़ेंगे और अपनी इसी प्रतिज्ञा के तहत हुए इस बार एलएलसी चुनाव नहीं लड़ रहे।

गौरतलब हो कि सिवान जिला के दरौली प्रखंड स्थित अपने पैतृक घर नेतवार गांव से गोरखपुर अपने आवास पर जाने के क्रम में पूर्व एमएलसी टुन्ना पांडेय का कुछ दिन पूर्व एक्सीडेंट हो गया था। हालांकि इस एक्सीडेंट में वह बाल-बाल बच गए थे। एक्सीडेंट में उन्हें हल्की चोट आई थी जिसके बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती किया गया था। अस्पताल से स्वस्थ होने के बाद घर आएं और उन्होंने यह वीडियो जारी कर स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडे पर कटाक्ष किया।

यह भी पढ़ें: Jharkhand: हाईकोर्ट ने कहा ‘पिक और चूज’ नहीं चलेगा, प्रोमोशन पर लगी रोक हटाये राज्य सरकार

Related posts

IAF Recruitment 2021 : वायु सेना में ग्रुप-C के लिए निकली वैकेंसी, ऐसे करें आवेदन

Manoj Singh

NIRF Ranking 2021: शिक्षा मंत्रालय ने जारी की NIRF रैंकिंग, IIT मद्रास को मिला Overall कैटेगरी में पहला स्थान

Manoj Singh

6th JPSC:  एकलपीठ के आदेश पर रोक लगाने को लेकर JPSC ने दाखिल की अपील

Manoj Singh