समाचार प्लस
Breaking देश फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर

उत्तर प्रदेश को PM मोदी की बड़ी सौगात: पूर्वांचल एक्सप्रेस वे का करेंगे उद्घाटन, क्या सड़क से सधेंगे सियासी हित?

Big gift of PM Modi to Uttar Pradesh

न्यूज़ डेस्क/ समाचार प्लस झारखंड -बिहार 
प्रधानमंत्री (PM) नरेंद्र मोदी मंगलवार को उत्तर प्रदेश को एक्सप्रेस वे की सौगात देने जा रहा है। सुल्तानपुर जिले के करवल खीरी में पीएम मोदी 341 किलोमीटर लंबे इस पूर्वांचल एक्सप्रेसवे का उद्घाटन करेंगे। एक्सप्रेस वे को बनाने में कुल 36 महीने लगे, जबकि इसमें कुल लागत 22,500 करोड़ रुपये की आई है। पूर्वी उत्तर प्रदेश को इस एक्सप्रेस वे से सीधा फायदा मिलेगा। लखनऊ से गाजीपुर तक एक्सप्रेसवे से नौ जिले जुड़ेंगे।
प्रधानमंत्री कार्यालय के अनुसार, पूर्वांचल एक्सप्रेस वे का उद्घाटन दोपहर करीब 1:30 बजे होगा। उद्घाटन के बाद,भारतीय वायु सेना द्वारा एक्सप्रेसवे पर निर्मित 3.2 किमी लंबी हवाई पट्टी पर एक एयर शो होगा। सुखोई, मिराज, जगुआर सहित वायुसेना के 11 विमान करतब दिखाएंगे। सुल्तानपुर जिले में एक्सप्रेसवे आपात स्थिति में भारतीय वायु सेना के लड़ाकू विमानों की लैंडिंग और टेक आफ करने में सक्षम होगी।

खुलेगा 11 जिलों के औद्योगिक विकास का रास्ता

इससे एक्सप्रेसवे के आसपास बसे 11 जिलों के औद्योगिक विकास का रास्ता साफ होगा। इनमें बाराबंकी, अमेठी, सुलतानपुर, जौनपुर, आजमगढ़, मऊ, अयोध्या, संतकबीर नगर, गोरखपुर, अंबेडकरनगर और बलिया शामिल है। बाराबंकी में खाद्य उत्पाद, लकड़ी और दवा उद्योग के विकास से लिए 735 हेक्टेयर जमीन चिह्नित की गई है। इसी तरह अमेठी, सुलतानपुर, आजमगढ़, मऊ और संतकबीरनगर में फूड प्रॉडक्ट्स इंडस्ट्री विकसित करने की योजना है। जौनपुर और अंबेडकरनगर में टेक्सटाइल, अयोध्या और गोरखपुर में मेडिकल उपकरण और बलिया में फूड प्रोसेसिंग इंडस्ट्री विकसित करने की योजना है।

चीन-पाकिस्तान को संदेश

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 16 नवंबर को उत्तर प्रदेश के सुलतानपुर में इंडियन एयरफोर्स के ट्रांसपोर्ट एयरक्राफ्ट C-130J सुपर हरक्यूलिस से पूर्वांचल एक्सप्रेस वे पर उतरेंगे। इंडियन एयरफोर्स के विमान वहां एयरशो भी करेंगे। वास्तविक नियंत्रण रेखा (LAC) पर चीन के साथ जारी तनाव के बीच इसे भारत की तैयारियों के रूप में देखा जा रहा है। युद्ध या प्राकृतिक आपदा की स्थिति में हमारी वायुसेना के विमानों की इमरजेंसी लैंडिंग हो सके, इसके लिए नैशनल हाइवे और स्टेट हाइवे पर एयर स्ट्रिप तैयार की जा रही है।

 

चुनाव में पूर्वांचल को साधने की कोशिश

पीएम मोदी मंगलवार, 16 नवंबर को यूपी की जनता को पूर्वांचल एक्सप्रेसवे की सौगात देने जा रहे हैं. सुलतानपुर में पीएम मोदी पूर्वांचल एक्सप्रेसवे का उद्घाटन करेंगे तो इससे न सिर्फ यूपी की जनता, बल्कि बीजेपी को भी एक सियासी फायदे की उम्मीद है. यूपी में 2022 की शुरुआत में ही विधानसभा चुनाव होने हैं. ऐसे में योगी सरकार पूर्वांचल एक्सप्रेसवे को अपनी एक बड़ी उपलब्धि की तरह पेश करने की तैयारी में हैं. सत्ता और विपक्ष प्रचार कार्य में जुट गए हैं और दिन-ब-दिन गहमागहमी बढ़ती जा रही है। दरअसल, पूर्वांचल में विधानसभा की 117 सीटें हैं।

चुनावी लिहाज से फायदेमंद है एक्सप्रेसवे!

मायावती के शासन में यमुना एक्सप्रेसवे बना था। लेकिन, अखिलेश सरकार ने इसका उद्घाटन किया तो 2012 के चुनाव में इसका फायदा मायावती की जगह अखिलेश को ही हुआ। फिर अखिलेश सरकार ने लखनऊ-आगरा एक्सप्रेसवे का काम शुरू किया और 2016 में अपने पिता मुलायम सिंह यादव के जन्मदिन के ठीक एक दिन पहले उसका उद्घाटन किया। अगले वर्ष 2017 में चुनाव हुए तो मायावती का हाल ही अखिलेश का भी हुआ। एक्सप्रेसवे जिन इलाकों से गुजर रहा है, वहां से अखिलेश की समाजवादी पार्टी को खास फायदा नहीं हुआ। ऐसे में यह सवाल भी है कि क्या योगी आदित्यनाथ इस ट्रेंड को तोड़कर पूर्वांचल एक्सप्रेसवे से चुनावी फायदा उठा पाएंगे।

ये भी पढ़ें :Delhi High Court: देश के पहले समलैंगिक जज होंगे सौरभ कृपाल, SC कॉलेजियम ने दी मंजूरी

 

Related posts

भारतीय वैक्सीन का दुनिया भर में डंका, कोविशील्ड और कोवैक्सीन को 96 देशों ने दी मान्यता

Pramod Kumar

Mann Ki Baat: सत्ता में रहना लक्ष्य नहीं, मेरा लक्ष्य लोगों की सेवा करना है – प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी

Pramod Kumar

श्रद्धांजलि : अलविदा आकाश, बहुत याद आओगे

Manoj Singh

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.