समाचार प्लस
Breaking झारखण्ड फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर राँची राजनीति

3 साल की जेल की सजा के कुछ देर बाद ही Bandhu Tirkey को मिली बेल, जाएगी विधायकी

Bandhu Tirkey

Bandhu Tirkey: आय से अधिक संपत्ति मामले में मांडर विधायक और झारखंड कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष बंधु तिर्की को तगड़ा झटका लगा है. सीबीआई की विशेष कोर्ट ने उन्हें दोषी करार देते हुए तीन साल की सजा सुनाई है. दो साल से अधिक की सजा मिलने के कारण अब बंधु तिर्की की विधानसभा सदस्यता समाप्त हो जाएगी. बंधु तिर्की को लेकर रांची व्यवहार न्यायालय स्थित सीबीआई के विशेष न्यायाधीश पीके शर्मा की कोर्ट ने सोमवार को यह फैसला सुनाया।बंधु तिर्की ने जमानत के लिए आवेदन दिया था, तो उन्हें कोर्ट ने जमानत भी दे दी.

निगरानी के बाद सीबीआई ने दर्ज किया था केस

झारखंड के पूर्व शिक्षा मंत्री व रांची जिले के मांडर विधानसभा क्षेत्र से विधायक बंधु तिर्की से जुड़े आय से अधिक संपत्ति मामले में सीबीआई की विशेष अदालत में अभियोजन की ओर से 21 तथा बचाव पक्ष की ओर से आठ गवाह पेश किये गये थे. इस मामले में सूचक सामाजिक कार्यकर्ता राजीव शर्मा हैं. इन्होंने 2009 में निगरानी कोर्ट में शिकायतवाद दाखिल किया था. निगरानी कोर्ट ने एक जुलाई 2009 को जांच का आदेश दिया था. 2010 में पहले एसीबी में मामला दर्ज किया गया था. इसके बाद विधायक बंधु तिर्की पर आय से अधिक संपत्ति मामले में सीबीआई ने एक अगस्त 2010 को (आरसी-5 ए/ 2010) केस दर्ज किया था.

इस मामले में पहले भी जेल जा चुके हैं बंधु तिर्की

पूर्व मंत्री बंधु तिर्की इस मामले में जेल जा चुके हैं और जमानत पर बाहर थे . सीबीआई ने बंधु तिर्की के खिलाफ मधु कोड़ा कांड में 11 अगस्त 2010 को आय से अधिक संपत्ति अर्जित करने के मामले में प्राथमिकी दर्ज की थी.

ये भी पढ़ें – Bandhu Tirkey को दोषी करार देते हुए 3 साल की सज़ा, आय से अधिक संपत्ति मामले में CBI कोर्ट ने सुनाया फैसला

Bandhu Tirkey

Related posts

PM Modi की राज्‍यों से अपील, देशह‍ित में तेल पर कम करें VAT

Manoj Singh

World Food Day पर सेंट एंथनी स्कूल डोरंडा द्वारा अनाज का किया गया वितरण

Sumeet Roy

World Soil Day : पराली की आग से झुलस रही खेतों की सेहत, एक आन्दोलन इसके लिए तो हो

Pramod Kumar