समाचार प्लस
Breaking झारखण्ड फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर राजनीति

‘लंका दहन की बेला निकट आ पहुंची है…,’ Babulal Marandi ने ट्वीट कर राज्य की ब्यूरोक्रेसी को दी नसीहत

image source : social media

बीजेपी विधायक दल के नेता और पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल मरांडी (Babulal Marandi) ने ट्वीट (tweet) (Babulal Marandi) ) कर झारखण्ड की नौकरशाही (Bureaucracy) पर निशाना साधते हुए कहा है कि हवा का रुख पहचानिए, लंका दहन की बेला निकट आ पहुंची है.

‘चंद लोगों के गलत कार्यों से सब बदनाम होते हैं’

बाबूलाल मरांडी(Babulal Marandi) ने एक चिट्ठी सोशल मीडिया पर जारी की है. इस चिट्ठी में उन्होंने लिखा है- ”मैं बार-बार बोल रहा हूं कि झारखंड के अधिकांश अधिकारी अच्छे हैं, सिर्फ चंद अफसर, जिनकी संख्या उंगली पर गिनने लायक है, उनकी वजह से पूरी ब्यूरोक्रेसी को बदनाम नहीं किया जा सकता, वैसे अफसरों को भी अपना ठंडे दिमाग से सोचना चाहिए, किसी अपराधी को बचाने के लिए आप किस हद तक जा सकते हैं?” उन्होंने कहा है कि प्रशासन से जुड़े अधिकांश अधिकारी ईमानदारी से काम करते हैं लेकिन चंद लोगों के गलत कार्यों से सब बदनाम होते हैं. साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि ईमानदार और मेहनती अधिकारियों को प्रोत्साहित किया जाना चाहिए और भ्रष्ट अधिकारियों पर कार्रवाई सुनिश्चित होनी चाहिए.

बाबूलाल मरांडी ने लिखा है कि अफसरों को भी ठंडे  दिमाग से सोचना चाहिए, किसी अपराधी को बचने के लिए आप किस हद तक जा सकते हैं? उन्होंने अधिकारियों को आगाह करते हुए कहा कि आप खुद तो जाएंगे ही, पूरी नौकरशाही आपके दामन पर लगे दाग के कारण बदनाम होगी। उन्होंने कहा कि भगवान के घर देर है अंधेर नहीं, एक दिन आपका भी नंबर आएगा. बाबूलाल मरांडी ने कहा कि कई अधिकारी अनौपचारिक बातचीत में बताते हैं कि वे खुद परेशान हैं. इज्जत बचाना मुश्किल हो रहा है. चंद लोगों ने अपनी हद पार कर दी है.

‘सरकारें आएगी और जाएगी…’

बाबूलाल मरांडी ने अपने नोट में यह भी लिखा है कि सरकारें आएगी और जाएगी. कोई भी हमेशा के लिए पद पर नहीं बना रह सकता. लेकिन जनता ऐसे कलंक लगाने वाले लोगों को माफ नहीं करती. कानून तो अपना काम करेगा ही. अहं इंसान का सबसे बड़ा शत्रु है. झारखंड के भ्रष्टाचारियों को अब भी लगता है कि उनका कुछ नहीं बिगड़ेगा. इसी अहंकार ने बड़े-बड़ों का नाश किया है. गैंग्स ऑफ साहिबगंज के चूहे जहाज छोड़कर इधर-उधर भाग रहे है. क्योंकि उन्हें पता है कि जहाज का कैप्टन खुद तो डूबेगा ही, उन्हें भी डुबाएगा.

ये भी पढ़ें : बेटे के अंतरजातीय शादी करने पर झारखंड सरकार के मंत्री सत्यानंद भोक्ता का सामाजिक बहिष्कार

Related posts

Sisai Love jihad Case: धर्म छिपाकर लड़की को प्रेमजाल में फंसाया, अब दे रहा धमकी

Manoj Singh

Jharkhand: सीएम हेमंत सोरेन ने विधानसभा के विशेष सत्र में विपक्ष के हंगामे के बीच पेश किया विश्वास मत

Pramod Kumar

Bihar: गया शहर की सफाई का भाजपा विधायक ने उड़ाया मजाक तो मेयर और डिप्टी मेयर ने लगा दी लताड़, देखिये वीडियो

Pramod Kumar