समाचार प्लस
Breaking फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर बिहार

Aurangabad: विवादित जमीन पर फसल की कटाई रोकने गई पुलिस, ग्रामीणों ने दौड़ा-दौड़ाकर पीटा, एएसआई समेत 11 पुलिसकर्मी घायल

Aurangabad News

औरंगाबाद: बिहार के औरंगाबाद (Aurangabad) में धान की कटनी को रुकवाने गई पुलिस टीम पर ग्रामीणों ने अचानक हमला कर दिया. बताया जा रहा है कि जिले के गोह थाना क्षेत्र के दरधा गांव में विवादित जमीन पर धान काटने से रोकने गई पुलिस पर ग्रामीणों ने हमला किया है. जिसमें 11 पुलिसकर्मी सहित कुल 17 लोग घायल हो गए हैं. बताया जा रहा है कि कोर्ट के निर्देश के बावजूद दूसरे पक्ष के लोग धान काट रहे थे. जिनको रोकने के लिए पुलिस गई थी.

10 सालों से  चल रहा है विवाद 

घटना के बारे में बताया जा रहा है कि यहाँ विवाद 10 सालों से  चल रहा है. उक्त जमीन को दोनों पक्ष  अपना बताते हैं. जबकि जमीन खतियानी बिरेन्द्र की है. हाईकोर्ट ने उसके ही पक्ष में फैसला दिया था.

ग्रामीणों ने किया पुलिस पर हमला

पुलिस के मुताबिक दरधा गांव (Aurangabad) के कुछ लोगों द्वारा विवादित जमीन पर लगी धान की फसल जबरन काटने की सूचना मिली थी. जानकारी के बाद पुलिस पदाधिकारी के साथ सशस्त्र पुलिस बल मौके पर पहुंच गई.

image source : social media
image source : social media

एक एएसआई सहित 11 पुलिसकर्मी घायल 

जानकारी के मुताबिक हाईकोर्ट के आदेश के अनुसार वह खेत बिरेन्द्र कुमार सिन्हा का है और उन्हीं के खेत में उक्त लोग धान काटने गए थे. सूचना पर तुरंत पुलिस खेत पर पहुंची. सभी लोगों को खेत से निकलने को बोला. इसपर कहासुनी हो गई  और हाथ में लाठी-डंडा लिए ग्रामीणों ने अचानक पुलिस टीम पर हमला बोल दिया. इस घटना में एक एएसआई सहित 11 पुलिसकर्मियों को चोटें आई हैं. जिसमें 5 महिला सिपाही भी शामिल हैं. इस घटना में कुल 17 लोग घाय हुए हैं. सभी घायलों का इलाज प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र गोह में चल रहा है.

इन घायलों का चल रहा इलाज 

घायलों में गोह थाना के पुलिस जवान राजकुमार, धर्मेंद्र कुमार, आर्यन कुमार, महिला पुलिस अनामिका कुमारी, प्रियंका कुमारी, रेखा कुमारी, लवली आनंद, नंदनी कुमारी शामिल है. जबकि लाठीचार्ज में ग्रामीण महिला बुचन कुमारी, कुसुम कुमारी, प्रेमलता देवी, रीना कुमारी, सौरभ कुमार भी जख्मी हो गए.

ये भी पढ़ें : Corona से 2 साल में भारत में 5.5 लाख हुई थी मौत, 2019 में 5 बैक्टीरिया ले चुके हैं 6.8 लाख की जान

 

Related posts

भविष्य निधि जमाकर्ताओं को लगा झटका, EPFO की केंद्रीय न्यासी बोर्ड ने ब्याज दर घटाई

Pramod Kumar

LPG Gas Cylinder Price: आम आदमी को झटका, बढ़े रसोई गैस सिलिंडर के दाम

Manoj Singh

Jharkhand News: लाह उत्पादन से जुड़े राज्य के 73 हज़ार किसान, महिला कृषक हो रहीं सशक्त

Manoj Singh