समाचार प्लस
Breaking देश फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर

Assembly Election 2022: प्रमोशन वाले हैशटैग से भी बढ़ेगा चुनाव खर्च, आयोग रखेगा पैनी नजर

Election Hashtag

न्यूज  डेस्क/ समाचार प्लस – झारखंड-बिहार  

2022 में होने वाले पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों में चुनावी खर्चों का दायरा बढ़ने वाला है। अब अपने प्रोमोशन के लिए किये जाने वाले चुनावी हैगटैक पर भी चुनाव आयोग पैनी नजर रखेगा। सोशल मीडिया पर ‘चुनावी खेल’ तो पहले से जारी है, लेकिन इस बार सोशल मीडिया पर होने वाली यह चुनावी हलचल चुनाव आयोग की नजर में रहेगी।

बता दें कि परदे के पीछे से चुनाव को प्रभावित करने वाला यह खेल अब तक चुनावी खर्च में शामिल नहीं था। लेकिन अब चुनाव आयोग की इस ओर नजर गयी है। जब भी चुनाव होते हैं, राजनीतिक दल आईटी का इस्तेमाल कर हैशटैग ट्रेंड कराने का खूब खेल करते हैं ताकि मतदाता और मतदान को प्रभावित किया जा सके। इसलिए राजनीतिक दलों के लिए काम करने वाले आईटी सेल भी निशाने पर रहेंगे। दरअसल, आईटी सेल के हैंडल सामान्य नागरिकों के नाम वाले होते हैं। जब कहीं मतदान हो रहा होता है तो ये सक्रिय हो जाते हैं।

पिछले चुनावों के निर्वाचन अधिकारी भी इस ओर ध्यान दिला चुके हैं, फिर आचार संहिता को लेकर चुनाव आयोग की बैठकों में राजनीतिक दलों के आईटी सेल को घेरे में लेने की सिफारिश की गयी है। पंजाब के एक जिला निर्वाचन अधिकारी ने स्पष्ट कहा कि इनको दायरे में लाना जरूरी है। एक प्रतिभागी ने कहा कि ये आईटी सेल वाले सीधे तौर पर प्रत्याशी को जिताने के लिए प्रचार करते हैं। इनको चुनाव खर्च में शामिल किया ही जाना चाहिए। अब चुनाव आयोग ने इस ओर सकारात्मक रुख अपनाया है।

यह भी पढ़ें: Good news : Jharkhand में सरकारी नौकरी पाने का बड़ा मौका, 2.44 लाख पदों पर जल्द होगी सीधी नियुक्ति

Related posts

Simdega: शांति मेडिकल सेंटर में अल्ट्रासाउंड का उद्घाटन सीएस डॉ प्रमोद ने किया

Pramod Kumar

इतिहास बनायेंगे मोदी : सुरक्षा परिषद बैठक की अध्यक्षता करने वाले होंगे पहले भारतीय पीएम

Pramod Kumar

Gaya : 47 किलो चांदी के जेवरों सहित दो तस्कर गिरफ्तार

Manoj Singh

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.