समाचार प्लस
Breaking देश फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर

Assassinations: दोहरी राजनीतिक हत्याओं ने केरल को हिलाया, BJP और SDPI नेताओं को हत्यारों ने चाकू से गोद डाला

Kerala Alapunjha Assassination

न्यूज डेस्क/ समाचार प्लस – झारखंड-बिहार

केरल का अलप्पुझा दो राजनीति दलों के नेताओं की हत्याओं से सहमा हुआ है। तकरीबन 12 घंटे के अंदर दोनों की एक ही तरीके से हत्या की गयी है। दोनों पर हत्यारों ने चाकुओं से वार कर उन्हें मौत के घाट उतारा है। रविवार की सुबह भाजपा के ओबीसी मोर्चा के रंजीत श्रीनिवासन की उनके घर के पास अज्ञात हमलावरों ने हत्या की। जबकि इस घटना के कुछ घंटे पहले शनिवार की रात सोशल डेमोक्रेटिक पार्टी ऑफ इंडिया (एसडीपीआई) के एक नेता केएस शान की इसी जिले में इसी तरह से हत्या की गई। दो हत्याओं के बाद पूरे अलप्पुझा जिले में दो दिनों के लिए सीआरपीसी की धारा 144 के तहत निषेधाज्ञा लागू कर दी गयी है। बीजेपी नेता की हत्या के मामले में 11 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। जिनके बारे में कहा जा रहा है कि इनमें से कुछ लोग सीधे तौर हत्या से जुड़े हो सकते हैं।

हत्यारों ने चाकुओं से वार कर दोनों नेताओं को उतारा मौत के घाट

शनिवार की रात एसडीपीआई के राज्य सचिव 38 वर्षीय केएस शान पर अज्ञात अपराधियों हमला बोल कर चाकू मारकर हत्या कर दी। एसडीपीआई नेता पर उस समय हमला किया गया, जब वह अपने स्कूटर पर मन्नाचेरी में घर लौट रहे थे। अपराधियों ने पहले कार से उनके स्कूटर को टक्कर मारी। जब शान नीचे गिर गये तब उन्होंने उन पर चाकू से कई वार किये। इस हमले में उन्हें कई फ्रैक्चर और सिर में चोटें आईं। बाद में एर्नाकुलम के एक निजी अस्पताल में उनकी मौत हो गई। वहीं, भाजपा नेता रंजीत श्रीनिवासन की रविवार की सुबह जब वह सैर के लिए अपने घर से निकले तब उनके घर के बाहर उनकी हत्या कर दी गयी। पुलिस ने कहा कि भाजपा नेता सुबह की सैर के लिए निकले थे, तभी आठ हमलावरों ने उन पर हमला किया और उन्हें चाकू मार दिया। अस्पताल ले जाते समय उनकी मौत हो गई।

हमलावरों के खिलाफ होगी सख्त कार्रवाई – सीएम विजयन

केरल के मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन ने इन हत्याओं की कड़ी निंदा की है। उन्होंने कहा कि हमले करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जायेगी। उन्होंने कहा, इस तरह के अमानवीय कृत्य राज्य के लिए बुरे हैं। सरकार किसी को भी कानून अपने हाथ में लेने की अनुमति नहीं देगी। ऐसे अपराधियों से सख्ती से निपटा जाएगा।

यह भी पढ़ें: अमृतसर में पाकिस्तान जैसी घटना, स्वर्ण मंदिर में दरबार साहब की ‘बेअदबी’ पर ‘सजा-ए-मौत’, ‘हत्याकांड’ की ‘सिर्फ निंदा’

Related posts

Jharcraft राज्य की पहचान है, इसे प्रॉफेशनल तरीके से चलाने की जरूरत है – CM

Sumeet Roy

Covid-19: 10 महीने बाद 10,000 से नीचे आया कोरोना संक्रमण, 24 घंटे में नये मामले 8,488 दर्ज

Pramod Kumar

धनबाद में अपराधी बेखौफ, आउटसोर्सिंग कंपनी के वॉल्वो पर फेंके दो बम, ड्राइवर और हेल्पर बचे

Pramod Kumar