समाचार प्लस
Breaking देश फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर

मणिपुर में भूस्खलन में धंसा आर्मी कैंप, 50 से अधिक जवान मिट्टी में दबे

Landslide in Manipur

Landslide in Manipur: पूर्वोत्तर राज्य मणिपुर में लगातार भारी बारिश की वजह से बुधवार रात भूस्खलन की चपेट में आने से आम लोगों के साथ टेरिटोरियल आर्मी के 50 से अधिक जवान इसकी चपेट में आ गए. यह घटना तुपुल रेलवे स्टेशन के पास हुई है. अब तक छह लोगों के शव बरामद किए गए हैं जबकि कई लोग मलबे में दबे हैं. वहीं बड़े पैमाने पर मलबे गिरने के कारण इजेई नदी अवरुद्ध हो गई है, जिससे एक जलाशय बन गया है जो निचले इलाकों को जलमग्न कर सकता है.

नोनी के डिप्टी कमिश्नर ने जारी की एडवाइजरी

नोनी के डिप्टी कमिश्नर द्वारा जारी एक एडवाइजरी में कहा गया है कि टुपुल यार्ड रेलवे निर्माण शिविर में हुए दुर्भाग्यपूर्ण भूस्खलन के कारण 50 से अधिक लोग मलबे के अंदर दब गए हैं जबकि छह लोगों के शव बरामद हुए हैं. इजेई नदी का प्रवाह भी मलबे से बाधित हो गया है, भंडारण की स्थिति अगर भंग हुई तो नोनी जिला मुख्यालय के निचले इलाकों में कहर बरपाएगा.

रेलवे लाइन के निर्माण के दौरान घटी घटना

जानकारी के मुताबिक जिरीबाम को इंफाल से जोड़ने के लिए एक रेलवे लाइन का निर्माण हो रहा था जिसकी सुरक्षा के लिए 107  टेरिटोरियल आर्मी के जवानों को तैनात किया गया था. बुधवार रात को वहां पर भारी भूस्खलन हुआ. जिसमें कई जवान दब गए. गुरुवार सुबह सेना, असम राइफल्स, मणिपुर पुलिस की ओर से बड़े पैमान पर रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू किया गया. जिसमें साइट पर उपलब्ध इंजीनियरिंग उपकरणों का भी उपयोग किया जा रहा है.

ये भी पढ़ें – Gwalior Rape: रेप के बाद 20 हडि्डयां तोड़ 9 साल की मासूम की कर दी हत्या, पोस्टमार्टम रिपोर्ट में हुआ खुलासा, नाक की हड्‌डी ही नहीं बची

Landslide in Manipur

Related posts

Chhath Puja 2022: नहाय-खाय के साथ छठ पूजा शुरू, जानें समय और शुभ योग

Manoj Singh

Parliament Winter Session: सरकार किसी भी मुद्दे पर बहस करने के लिए तैयार – प्रधानमंत्री

Pramod Kumar

झारखंड में भाजपा के पूर्व विधायक गुरुचरण नायक पर हुआ नक्सली हमला, दो बॉडीगार्ड की हत्या

Sumeet Roy