समाचार प्लस
Uncategories स्वास्थ्य

Apollo Telehealth को मिला ISO सर्टिफिकेशन, मान्यता प्राप्त करने वाली बनी दुनिया की पहली कंपनी

Apollo Telehealth: दुनिया की सबसे बड़ी और सबसे पुरानी मल्टी-स्पेशियलिटी टेलीमेडिसिन नेटवर्क अपोलो टेलीहेल्थ ब्रिटिश स्टैंडर्ड इंस्टीटूशन (बीएसआई) द्वारा दिए जाने वाले ISO 13131:2021 का सर्टिफिकेट प्राप्त करने वाला दुनिया की पहला आर्गेनाइजेशन बन गई है। यह सम्मान रिमोट हेल्थ एंड केयर सर्विस के लिए दिशा-निर्देशों को परिभाषित करने के लिए आवश्यक गुणवत्ता और रिस्क मैनेजमेंट मेथड्स (जोखिम प्रबंधन विधियों) पर ध्यान देने के लिए प्रदान किया जाता है। ISO 13131:2021 स्टैण्डर्ड के एक क्लास (वर्ग) से संबंधित होता है जो हेल्थकेयर में इनोवेशन का सपोर्ट करने वाले फ्लेक्सिबल और जनरल गुइडेलिने प्रदान करता है।

ApISO 13131:2021 स्टैण्डर्ड पर रिकमेन्डेशन प्रदान करता है जिनका उपयोग टेलीहेल्थ सेवाओं के विकास में मदद के लिए किया जा सकता है, प्रत्येक हेल्थ सर्विस (स्वास्थ्य सेवा) के लिए गाइडलाइन डेवलप करने की जिम्मेदारी प्रत्येक आर्गेनाइजेशन के पास रहती है। इस स्टैण्डर्ड का सर्टिफिकेशन (प्रमाणन) प्राप्त करना टेलीहेल्थ सेवा प्रावधानों के इस नए युग में एक प्रोवाइडर (प्रदाता) की क्वालिटी, सुरक्षा और मरीज के डेटा सुरक्षा को प्रभावी ढंग से मैनेज करने की क्षमता को प्रदर्शित करता है।

अपोलो हॉस्पिटल्स ग्रुप के चेयरमैन तथा फाउंडर डॉ प्रताप सी रेड्डी ने कहा, “हमारा काम देश और दुनिया भर में लाखों लोगों को उचित मेडिकल केयर और सपोर्ट प्रदान करना रहा है। इसलिए यह सबसे अहम् है कि हम टेलीहेल्थ सर्विसेस को प्रदान करने में गुणवत्ता सुनिश्चित करने के लिए सख्त प्रक्रियाएं अपनाएं, और हम ऐसा करते भी रहे हैं। हम क्वालिटी प्रोग्राम में भारी निवेश करते हैं और यह सर्टिफिकेट यूजर फ्रेंडली तकनीकी समाधानों को विकसित करने और हमारे सभी प्लेटफॉर्म पर चिकित्सा सेवाओं को अमल में लाने के लिए हमारे प्रयास के लिए एक तरह से पुरूस्कार है। ISO 13131:2021 का सर्टिफिकेट प्राप्त करके अपोलो टेलीहेल्थ ने दिखाया है कि उन्होंने दूर-दराज के क्षेत्रों में अपनी टेलीहेल्थ सेवाओं को पहुंचाने के लिए सर्वश्रेष्ठ दिशानिर्देशों को अपनाया है।”

इस उपलब्धि पर बात करते हुए अपोलो हॉस्पिटल्स ग्रुप के जॉइंट मैनेजिंग डायरेक्टर डॉ संगीता रेड्डी ने अपनी प्रसन्ता व्यक्त करते हुए कहा, “1999 की शुरुआत में अपोलो हॉस्पिटल ग्रुप ने अपनी हेल्थकेयर की पहुंच बढ़ाने का फैसला किया और टेलीमेडिसिन प्लेटफॉर्म के माध्यम से सूचना और संचार प्रौद्योगिकी को अपनाकर उपनगरीय और ग्रामीण भारत में स्वास्थ्य सेवा प्रदान करने की प्रक्रिया शुरू की। दो दशकों से अधिक समय के बाद अपोलो टेलीहेल्थ (एटीएच) सबसे पुराना और सबसे बड़ा मल्टीस्पेशलिटी टेलीमेडिसिन नेटवर्क है, जिसने 13 मिलियन से ज्यादा लोगों को अपनी सेवाएं दी है। आज अपोलो टेलीहेल्थ टेलीमेडिसिन के क्षेत्र में 800 से ज्यादा पब्लिक हेल्थ सेंटर (सार्वजनिक स्वास्थ्य केंद्रों), 100 से ज्यादा फ्रैंचाइज़ी टेलीक्लिनिक्स और 350,000 कॉमन सर्विस सेंटर (सामान्य सेवा केंद्रों) के माध्यम से देश में उपस्थिति के हिसाब से भारत के सबसे बड़े टर्नकी प्रोवाइडर के रूप में उभरा है, और तेजी से अन्य स्थानों पर अपनी सेवाओं का विस्तार कर रहा है। एटीएच ने नवीनतम तकनीकों के उपयोग से हेल्थकेयर सर्विस (स्वास्थ्य सेवा) को प्रत्येक उपभोक्ता को प्रदान किया है, जिससे कनेक्टेड हेल्थ और देखभाल की निरंतरता बनाये रखी जा सके। टेलीमेडिसिन में विश्व में सबसे अच्छा और प्रमुख बनाने के लिए एटीएच ISO स्टैण्डर्ड प्राप्त करने की उपलब्धि एटीएच से जुड़े सभी लोगों के समर्पण, प्रयास और दृढ़ता को दर्शाता है।”

अधिकांश देशों में राष्ट्रीय सुरक्षा और गुणवत्ता स्वास्थ्य सेवा मानक (नेशनल सेफ्टी एन्ड क़्वालिटी हेल्थ सर्विस स्टैण्डर्ड) होता हैं, लेकिन अपोलो टेलीहेल्थ ने इस महत्वपूर्ण स्टैण्डर्ड ISO 13131:2021 की भूमिका पर बल देते हुए स्वास्थ्य और देखभाल सेवाओं (केयर सर्विसेस) के रिमोट डिलीवरी को नियंत्रित करने के तरीके को शामिल करने के लिए एडवांस तरीके से काम किया है।

अपोलो टेलीहेल्थ के सीईओ श्री विक्रम थापलू ने इस उपलब्धि पर प्रसन्नता ज़ाहिर करते हुए कहा, “ISO 13131:2021 सर्टिफिकेट प्राप्त करके एटीएच ने प्रदर्शित किया है कि यह क़्वालिटी स्टैण्डर्ड (गुणवत्ता मानकों) को प्राप्त करने के लिए अथक प्रयास करेगा। इस सर्टिफिकेट से एटीएच की तकनीक, लोगों और प्रक्रिया को आईएसओ द्वारा उल्लिखित कठोर क़्वालिटी स्टैण्डर्ड (गुणवत्ता मानकों) के तहत जांचा गया है। मुझे अपनी टीम पर इस उपलब्धि के लिए बेहद गर्व है। यह सर्टिफिकेट टीम की और कंपनी की गुणवत्ता सुनिश्चित करने तथा दुनिया भर में शहरी और ग्रामीण आबादी को सर्वोत्तम संभव सेवा प्रदान करने की प्रतिबद्धता को साबित करता है। महामारी की वजह से टेलीमेडिसिन प्रमुख रूप से इस्तेमाल में लाया जाने लगा है। हम चुनौतियों का सामना करने और हजारों मरीजों को टेलीकंसल्टेशन प्रदान करने के लिए तैयार थे। हमारे सर्विस डिलीवरी मॉडल के माध्यम से हम महामारी के सबसे मुश्किल समय में में गुणवत्तापूर्ण स्वास्थ्य सेवा की पहुंच बढ़ाने में सफल रहे। हम अपनी सेवाओं में निरंतर सुधार और विकास के लिए समर्पित हैं। हम पहले से ही कोविड टेलीमेडिसिन सेनारियो के संदर्भ में सोच रहे हैं और इसके लिए गंभीरता से काम कर रहे हैं।”

अपोलो टेलीहेल्थ के बारे में

अपोलो टेलीहेल्थ अपोलो हॉस्पिटल्स ग्रुप की एक यूनिट है। अपोलो ग्रुप भारत का सबसे भरोसेमंद और प्राइवेट हेल्थकेयर हैजो 35 वर्षों से हेल्थ केयर सर्विस डिलीवरी प्रदान कर रहा है । अपोलो टेलीहेल्थ, टेलीमेडिसिन के 2 दशकों के अनुभव के साथ, आईसीटी के लाभों का उपयोग करता हैऔर क्वालिटी हेल्थ सर्विस को वंचित व जरुरतमंदो के करीब लाने के लिए बायो मेडिकल टेक्नोलॉजी का प्रयोग करता है । यह एक व्यापक ई-हेल्थ सलूशन है जो क्लाउड नेटवर्क पर क्वालिटी हेल्थ केयर सर्विस प्रदान करता है।जनता को मजबूत करने में टेलीमेडिसिन टर्नकी सोलूशन्स को लागू करने में इसका सिद्ध ट्रैक रिकॉर्ड है. स्वास्थ्य प्रणाली भारत में पीपीपी ढांचे में एक इनोवेशन है।

Related posts

Central University of Jharkhand के सहायक प्रोफ़ेसर डॉ.अमृत कुमार हुए सम्मानित

Vaidya Ritika Gautam

राष्ट्रपति Ramnath Kovind ने ग्रुप कैप्टन Abhinandan Vardhman को किया वीर चक्र से सम्मानित, मार गिराया था पाक का एफ-16 फाइटर जेट

Sumeet Roy

IND Vs NZ: JSCA ने जारी की एडवाइजरी, दर्शकों को मैच देखने के लिए इन निर्देशों का करना होगा पालन  

Manoj Singh