समाचार प्लस
Breaking गिरीडीह झारखण्ड पाकुड़ फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर

बगोदर और पाकुड़ से पशु तस्कर गिरफ्तार, मवेशी बरामद, खुली धंधे की पोल

बगोदर और पाकुड़ से पशु तस्कर गिरफ्तार

पाकुड़ से कार्तिक और गिरिडीह से राजन सिन्हा की रिपोर्ट

गिरिडीह के बगोदर थाना पुलिस ने गुप्त सूचना के आधार छापेमारी कर 104 मवेशियों को बरामद किया। इसके साथ ही तस्करों के साथ चालकों और सहयोगियों को भी पुलिस ने गिरफ्तार किया। 9 पिकअप वैन में 104 मवेशियों और उसके बछड़ों को लोड कर धनबाद ले जाया जा रहा था।

फर्जी कागजात  के सहारे मवेशियों को बेचने जा रहे थे

बगोदर पुलिस ने थाना क्षेत्र के घंघरी टोल प्लाजा और अटका के समीप छापेमारी कर मवेशियों से लदे वाहनों को जब्त किया। मंगलवार को थाना प्रभारी सरोज सिंह ने घटना की जानकारी देते हुए बताया कि  वाहन में मवेशियों और उनके बछड़ों को ले जाया जा रहा था। वाहन में कारोबारी भी थे, जो फर्जी कागजात के सहारे मवेशियों को बेचने जा रहे थे। सभी को गिरफ्तार कर लिया गया है। मवेशियों में 64 दुधारू गाय और 39 बछड़े मिले हैं। जिसके बाद उनकी प्राथमिक इलाज के बाद बगोदर थाना पुलिस ने मधुबन गौशाला को सौंप दिया। गौ तस्करी के आरोप में पुलिस ने जिन आरोपियों को जेल भेजा है उनमें कुछ बोकारो और दो यूपी के बलिया और देवरिया के हैं। जबकि अधिकांश बिहार के भोजपुर के रहने वाले हैं.

गिरफ्तार तस्करों में यूपी बलिया के विशाल यादव, बिहार के बक्सर का मनु यादव, यूपी देवरिया के निवासी मो. अली अंसारी, बोकारो के नीरज कुमार, दिनेश यादव और भोजपुर के जीतू कुमार, मनोज यादव और मुकेश तिवारी के नाम शामिल हैं।

पाकुड़ जिले के महेशपुर थाना प्रभारी की सक्रियता से मवेशी तस्करी गिरोह का भंडाफोड़ 

पाकुड़ जिले के महेशपुर थाना प्रभारी सुनील कुमार रवि की सूझबूझ एवं सक्रियता की वजह से मवेशी तस्करी गिरोह का न केवल भंडाफोड़ हुआ है, बल्कि तस्करी के लिए ले जाए जा रहे ग्यारह गायें एवं दो बछड़ों को भी जब्त किया गया है । पुलिसिया छापेमारी के दौरान मवेशियों से लदा वाहन डब्ल्यूबी 61ए5053 को भी जब्त किया गया है।

पशु तश्करी के इस मामले में मोजिम अंसारी एवं सलीम शेख को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। जब्त मवेशियों को थाना परिसर में रखा गया है। प्राप्त जानकारी के मुताबिक थाना प्रभारी महेशपुर सुनील कुमार रवि को यह गुप्त सूचना मिली थी कि हिरणपुर से महेशपुर थाना क्षेत्र के रास्ते वाहन के जरिये मवेशी पश्चिम बंगाल ले जाया जा रहा है। इसी सूचना पर थाना प्रभारी सदल बल छापेमारी के लिए रवाना हुए।पीर पहाड़ के निकट एक वाहन को आता देख पुलिस ने रुकने का इशारा किया तो चालक गाड़ी लेकर भागने लगा।थाना प्रभारी एवं जवानों ने पीछा कर वाहन सहित दो लोगों को धर दबोचा। वाहन की जांच हुई तो उस पर गाय एवं बछड़े लदे पाये गये।

पुलिस एवं सफेदपोश नेताओं के संरक्षण में आरोपी करता है पशु तस्करी 

जानकारी के मुताबिक जिन मवेशियों को महेशपुर थाने की पुलिस ने जब्त किया है। इन्हें पश्चिम बंगाल के हयातनगर के बड़े पशु माफिया हैदर के पास ले जाया जा रहा था। सूत्रों के मुताबिक हैदर मवेशियों की तस्करी का कार्य पिछले कई वर्षों से पुलिस एवं सफेदपोश नेताओं के संरक्षण में करता आ रहा था। देवघर गोड्डा एवं पाकुड़ से मवेशियों की खरीदारी कर उसे पश्चिम बंगाल के रास्ते बंग्लादेश भेजकर पशु तस्कर हैदर लाखों की कमाई किया करता है।

ये भी पढ़ें :BREAKING: लालू परिवार की बढ़ी मुश्किलें, तेजस्वी, मीसा भारती और मदन मोहन के खिलाफ थाने में केस दर्ज

 

Related posts

भारत के 5 क्रूर Serial Killers, इन्हें पकड़ने के लिए पुलिस को भी करनी पड़ी थी मशक्कत

Priyanshi Tripathi

ध्यानचंद खेल रत्न के लिए 11 खिलाड़ियों के नामों की सिफारिश, नीरज की दावेदारी सबसे प्रबल

Pramod Kumar

PM Modi on NEP:  PM ने कहा-14 इंजीनियरिंग कॉलेज में हो सकेगी भारतीय भाषाओं में पढ़ाई

Manoj Singh

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.