समाचार प्लस
Breaking झारखण्ड फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर राँची

UPA विधायक दल की बैठक में नहीं पहुंचे नाराज कांग्रेसी विधायक, JMM दे रहा सफाई

Jharkhand Congress-JMM Dispute

न्यूज डेस्क/ समाचार प्लस – झारखंड-बिहार

झारखंड विधानसभा का शीतकालीन सत्र सुचारू रूप से चले इसके लिए हेमंत सरकार प्रयास कर रही है। लेकिन ऐसा कैसे हो सकता है जब उसके सहयोगी ही उसके साथ न हों। गुरुवार शाम मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन की अध्यक्षता में UPA की बैठक बुलायी गयी थी, लेकिन इस बैठक में  कांग्रेस का कोई विधायक नहीं पहुंचा। हेमंत सोरेन की अध्यक्षता में होने वाली इस बैठक के बजाय बताया जा रहा कि कांग्रेसी विधायक दल के नेता आलमगीर आलम के आवास पर चले गये थे। सरकार में शामिल कांग्रेस कई वजहों से सरकार से नाराज है। हालांकि JMM विधायक इस बात का खंडन कर रहे हैं। उनका कहना है कि गठबंधन में सबकुछ ठीकठाक है। लेकिन गठबंधन में खींचतान चल रही है, इससे इनकार नहीं किया जा सकता। हाल में हेमंत सरकार ने कई एक पक्षीय फैसले लिये हैं, कांग्रेस की नाराजगी की यही वजह है।

इन वजहों से कांग्रेस हेमंत सरकार से है नाराज
  • जेपीएससी परीक्षा में भ्रष्टाचार के मुद्दे लगातार उठ रहे हैं। भ्रष्टाचार के इन मुद्दों का निकारण नहीं होने से कांग्रेस हेमंत सरकार से नाराज है।
  • कांग्रेस विधायक जेपीएससी अध्यक्ष अमिताभ चौधरी को हटाये जाने की मांग लगातार कर रहे हैं, लेकिन हेमंत सरकार उनकी मांगों पर ध्यान नहीं दे रही है।
  • जेपीएससी की परीक्षाओं से कई क्षेत्रीय भाषाओं का हटा दिया गया है। इसको लेकर भी कांग्रेस विधायक नाराज चल रहे हैं।
  • सबसे महत्वपूर्ण कारण है कि कांग्रेस की सरकार में नहीं सुनी जा रही है। कांग्रेस का आरोप है कि सत्ता पक्ष द्वारा जेएमएम नेताओं की ज्यादा सुनी जा रही है।
  • यह भी पढ़ें: CM Hemant Soren ने किया SRMI का शुभारंभ, बोले-विपत्ति के समय प्रवासी श्रमिकों को मदद पहुंचाना प्राथमिकता

Related posts

यूपी-पंजाब समेत पांच राज्यों का बजा चुनावी बिगुल, 10 फरवरी से पड़ेंगे वोट, 10 मार्च को आयेगा परिणाम

Pramod Kumar

PM-पोषण: सरकारी स्कूल के बच्चों को 5 साल तक फ्री में मिलेगा मिड-डे मील, मोदी सरकार की नई स्कीम

Manoj Singh

Begurasai: बेखौफ बदमाशों ने व्यापारी की पहले की बेहरम पिटाई, फिर 1.65 लाख रुपये लूट कर चलते बने

Pramod Kumar