समाचार प्लस
Breaking अररिया किशनगंज पूर्णिया फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर बिहार

अमित शाह आने वाले हैं बिहार, भाजपा का जोश और जदयू का ‘ब्लड प्रेशर’ हाई, तेजस्वी को गृहमंत्री के बिहार दौरे का इंतजार!

Amit Shah is coming to Bihar, the enthusiasm of BJP workers will be high

न्यूज डेस्क/ समाचार प्लस – झारखंड-बिहार

बिहार की सत्ता हाथ से जाने के बाद केन्द्रीय गृहमंत्री अमित शाह बिहार के दौरे पर आ रहे हैं। माना जा रहा है कि 2024 में लोकसभा चुनाव और 2025 में होने वाले बिहार विधानसभा चुनाव की तैयारियां भाजपा ने अभी से शुरू कर दी है। शुक्रवार बिहार समेत 15 राज्यों के लिए भाजपा ने प्रभारियों की घोषणा की है। बिहार के प्रभारी महाराष्ट्र के दिग्गज भाजपा नेता विनोद तांवड़ को बनाया गया है। गृहमंत्री का यह दौरा बिहार के सीमांचल क्षेत्र में हो रहा है। जनसभा को सम्बोधित करने के साथ अमित शाह भाजपा और भाजपा के विभिन्न संगठनों के कार्यकर्ताओं में जोश भरने का काम करेंगे। वहीं, अमित शाह का बिहार दौरा जदयू को नहीं भा रहा है, उसे शाह के इस दौरे में साम्प्रदायिकता की बू आ रही है।

वहीं, बिहार भाजपा में अमित शाह के आगमन जबरदस्त उत्साह का माहौल है। चूंकि अमित शाह पहली बार सीमांचल दौरे पर आ रहे हैं, बिहार का  राजनीतिक माहौल गर्म है। राजनीतिक माहौल गर्म होने का एक कारण यह भी है कि किशनगंज, पूर्णिया, अररिया, सहित बंगाल के कुछ जिलों को मिलाकर एक केंद्र शासित प्रदेश बनाए जाने की चर्चा जोरों पर है। इसीलिए जदयू भाजपा पर निशाना साध रहा है। जदयू का आरोप है कि इतने वर्षो से केंद्र में बीजेपी की सरकार है, लेकिन यहां के विकास के लिए कोई कदम नहीं उठाया गया और अब यहां की शांति भंग करने के लिए गृहमंत्री यहां आ रहे हैं?

अमित शाह 23 व 24 सितंबर को पूर्णिया प्रमंडल के दौरे पर रहेंगे। 23 सितम्बर को शाह के पूर्णिया में एक रैली को संबोधित करने और किशनगंज में रात्रि विश्राम करने की खबर है। शाह किशनगंज में पूर्णिया सहरसा प्रमंडल के बीजेपी नेताओं कार्यकर्ताओं, बीएसएफ, एसएसबी अधिकारियों संग भी बैठक करेंगे। इसके अलावा एसएसबी बीएसएफ अधिकारियों के साथ आयोजित बैठक में सीमा सुरक्षा को लेकर चर्चा किए जाने की भी संभावना है।

अमित शाह के बिहार दौरे को लेकर उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने कहा कि गृहमंत्री बिहार आ रहे हैं, यह बहुत अच्छी बात है। मैं चाहूंगा कि वह बिहार के लिए कुछ अच्छा करें। मुझे बिहार के लिए उनसे काफी उम्मीदें हैं।

यह भी देखें: BJP ने भी कस ली 2024 के चुनावी समर के लिए कमर! 15 राज्यों के नये प्रभारी सब पर पड़ेंगे भारी!

Related posts

नये साल 2022 का जश्न शुरू, दुनिया के छोटे देश समोआ ने सबसे पहले मनाया नववर्ष

Pramod Kumar

ISRO का EOS-03 मिशन आखिरी मिनट में हुआ फेल, क्रायोजेनिक इंजन में आई खराबी

Manoj Singh

Jharkhand: प्रवासी कामगारों के लिए सहायता केंद्र का शुभारंभ, दुमका और पश्चिमी सिंहभूम में भी स्थापित होंगे केंद्र

Pramod Kumar