समाचार प्लस
Breaking झारखण्ड फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर राँची

मनी लॉन्ड्रिंग के आरोपी Amit Agarwal की बिगड़ी तबीयत, ट्रॉमा सेंटर में चल रहा इलाज

image source : social media

झारखंड उच्च न्यायालय के अधिवक्ता राजीव कुमार (Advocate Rajeev Kumar) की 50 लाख रुपये के साथ गिरफ्तारी करवाने वाले कोलकाता के व्यवसायी अमित अग्रवाल (Amit Agarwal) की तबीयत बिगड़ गई है. बिरसा मुंडा केंद्रीय कारागार होटवार से कड़ी सुरक्षा के बीच उन्हें इलाज के लिए रिम्स के ट्रॉमा सेंटर एंड सेंटर इमरजेंसी में लाया गया है. जहां डॉक्टरों की टीम उनका इलाज कर रही है. जानकारी के मुताबिक अमित अग्रवाल को पेट के निचले हिस्से में दर्द के बाद उन्हें रिम्स लाया गया है.

31 जुलाई को अधिवक्ता राजीव कुमार की हुई थी गिरफ्तारी

कोलकाता के हेयर स्ट्रीट थाने में अमित अग्रवाल (Amit Agarwal) ने अधिवक्ता राजीव कुमार (Advocate Rajeev Kumar) के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज कराई थी। उसने दावा किया था कि एक जनहित याचिका मैनेज करने के नाम पर अधिवक्ता ने उनसे एक करोड़ रुपये की मांग की थी। पहली किश्त में 50 लाख रुपये लेने कोलकाता गए थे। अमित अग्रवाल ने दावा किया था कि अधिवक्ता राजीव कुमार 50 लाख रुपये ले ही रहे थे कि उन्होंने कोलकाता पुलिस के साथ मिलकर गत 31 जुलाई को उनकी गिरफ्तारी करवाई थी।

ये भी पढ़ें : ऑफिस ऑफ प्रॉफिट मामले में चुनाव आयोग की ना, Hemant Soren मामले में RTI के तहत जानकारी देने किया इनकार

 

Related posts

फिटनेस कॉन्शन बॉलीवुड में नशा? आखिर फिटनेस और नशे का क्या तालमेल?

Pramod Kumar

Olympic में चाहिए Medals पर schools में नहीं है playground, ऐसे में कैसे खेलेगा भारत और कैसे बढ़ेगा भारत?

Sumeet Roy

पब्लिक स्कूलों पर चलेगा प्रशासन का डंडा, अधिक फीस लेने वाले स्कूलों पर होगी सख्त कार्रवाई 

Sumeet Roy