समाचार प्लस
Breaking फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर बिहार राजनीति

मुकेश सहनी को बड़ा झटका, Amar Paswan ने VIP से दिया इस्तीफा, RJD का थामा दामन

Amar paswan resigned from VIP and joined RJD

मुकेश सहनी (Mukesh sahni) बोचहां विधानसभा उपचुनाव (Bochan by-election) में बीजेपी के खिलाफ जिस अमर पासवान (Amar paswan)  के सहारे ताल ठोक रहे थे, उस अमर पासवान ने उनका साथ छोड़ दिया है. अमर पासवान ने वीआईपी की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया है. अमर पासवान वीआईपी के अनुसूचित जाति-जनजाति प्रकोष्ठ का राष्ट्रीय अध्यक्ष थे. उन्हें जनवरी में वीआईपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष मुकेश सहनी नेअनुसूचित जाति-जनजाति प्रकोष्ठ का राष्ट्रीय अध्यक्ष मनोनीत किया था.  उनके VIP से इस्तीफा देने के बाद आरजेडी (RJD) में जाने की अटकलें तेज है. कहा जा रहा है कि आरजेडी उन्हें उपचुनाव में अपना उम्मीदवार बना सकती है. इधर अमर पासवान के इस्तीफे के बाद यह साफ होता नजर आ रहा है कि उन्हें आरजेडी अपने सिंबल पर बोचहां में उम्मीदवार बनाएगी !

दो नाव की सवारी कर रहे थे सहनी !

मुकेश सहनी पिछले कुछ दिनों से लगातार दो तरह की राजनीति कर रहे थे. एकतरफ वो बीजेपी का खुलेआम विरोध कर रहे थे तो वहीं दूसरी तरफ जेडीयू पर उनके तेवर नरम थे. सहनी ने एमएलसी चुनाव में जिन सात सीटों पर उम्मीदवार उतारने का ऐलान किया है उसमें जेडीयू के विरोध में एक भी सीट नहीं है. इतना ही नहीं सहनी जेडीयू उम्मीदवारों के नामांकन में भी शामिल हो रहे थे और नीतीश कुमार की जमकर तारीफ कर रहे थे. इसके साथ ही सहनी लालू प्रसाद की भी तारीफ कर रहे हैं और खुद को लालू प्रसाद की विचारधारा का बता रहे थे.

आरजेडी ने फिर दिया झटका !

लेकिन मुकेश  सहनी को लालू का प्रशंसा करना काम नहीं आया और विधानसभा चुनाव से पहले की तरह ही आरजेडी ने एकबार फिर सहनी को झटका दिया है. और जिस खिलाड़ी के बल पर वह मैदान मारने का दम भर रहे थे, उस खिलाड़ी को उनसे दूर कर दिया है! अब पूरी उम्मीद है कि सहनी की पार्टी के दिवंगत विधायक मुसाफिर पासवान के बेटे आरजेडी के उम्मीदवार होंगे.

बीजेपी ने की थी साथ देने की अपील

इससे पहले मुकेश सहनी से बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष ने एनडीए के साथ आने की अपील की थी और कहा था वह एनडीए को मजबूत करें. उन्होंने कहा था कि एनडीए और नीतीश कुमार की सरकार के लिए बोचहां सीट का बहुत महत्व है. लेकिन सहनी बोचहां सीट पर चुनाव लड़ने की जिद पर अड़े है. सहनी ने बीजेपी की अपील को अनसुना कर अपने उम्मीदवार को उतारने का ऐलान किया. सहनी ने कहा है कि उन्होंने  दिवंगत विधायक के बेटे अमर पासवान को मैदान में उतारने का फैसला किया है. लेकिन अब अमर पासवान ने ही जब पाला बदल लिया है तो देखना होगा कि सहनी अकी अगली रणनीति क्या होगी.

इसे भी पढ़ें: Pradeep की उड़ान और जज्‍बे को सलाम, पूरे देश में हो रही है तारीफ

Related posts

पंचायत चुनाव में अनियमितता की शिकायतें, कहीं परिसीमन बदला, कही मतदाता सूची में गड़बड़ी

Pramod Kumar

CM हेमन्त सोरेन ने दुमका से सोना-सोबरन धोती साड़ी वितरण योजना का किया शुभारंभ, कहा-विकास हमारी सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता

Manoj Singh

बिहार में सरकार की वेबसाइट पर ऑनलाइन होगी जमीन की खरीद-बिक्री, बिचौलियों पर लगेगी लगाम

Manoj Singh