समाचार प्लस
Breaking झारखण्ड फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर राँची

‘स्थानीय नीति ही बने नियोजन का आधार’, नगर निकाय चुनाव में ओबीसी आरक्षण खत्म करने के विरोध में 17नवंबर को AJSU पार्टी करेगी राज्यव्यापी आंदोलन

रांची (Ranchi):  झारखंड सरकार द्वारा नगर निकाय चुनाव में ओबीसी के लिए आरक्षित सीटों को अनारक्षित करने के विरोध में आजसू पार्टी (AJSU Party) 17 नवंबर को राज्यव्यापी आंदोलन करेगी तथा सभी जिला मुख्यालय में एकदिवसीय धरना (AJSU dharna) प्रदर्शन करेगी। ज्ञात हो कि इसी वर्ष हुए त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में भी राज्य सरकार ने पिछड़ा आरक्षण को खत्म कर दिया था। झारखंड के इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ। पिछड़ों के प्रति सरकार की संवेदनहीनता के विरोध में आजसू पार्टी लगातार मुखर रही है और इसी क्रम में राज्यव्यापी आंदोलन का निर्णय लिया गया।

उक्त निर्णय आजसू पार्टी के केंद्रीय अध्यक्ष सुदेश कुमार महतो की अध्यक्षता में रांची स्थित केंद्रीय कार्यालय में सभी विधानसभा प्रभारी तथा जिला प्रभारी के साथ हुई बैठक में लिया गया। बैठक में आजसू पार्टी द्वारा किए गए कार्यक्रमों की समीक्षा की गई तथा भावी कार्यक्रमों की रुपरेखा तथा तारीख भी सुनिश्चित किया गया।

कार्यक्रम 

07 नवंबर को सभी जिला में आजसू पार्टी जिला कार्यसमिति की बैठक आयोजित की जाएगी तथा 18 नवंबर को आजसू पार्टी केंद्रीय कमिटी की बैठक होगी। बैठक के दौरान आजसू पार्टी की सहयोगी इकाई के राज्यस्तरीय सम्मेलन को लेकर भी निर्णय लिया गया, जिसमें अखिल झारखण्ड श्रमिक संघ का राज्यस्तरीय सम्मेलन 20 नवंबर को बेरमो में, अखिल झारखण्ड बुद्धिजीवी मंच का राज्यस्तरीय सम्मेलन 27 नवंबर को रांची में तथा अखिल झारखण्ड महिला संघ का राज्यस्तरीय सम्मेलन 04 दिसंबर को कोनार डैम क्षेत्र, मांडू में मुख्य रुप से शामिल है। बैठक के दौरान केंद्रीय अध्यक्ष सुदेश कुमार महतो ने आजसू पार्टी की सभी अनुषंगी इकाइयों के गठन, पुनर्गठन एवं विस्तार कार्य को 30 दिसंबर तक पूर्ण करने निर्देश दिया।

स्थानीयता का निर्धारण ही नियोजन का आधार बने

बैठक के दौरान सुदेश कुमार महतो ने कहा कि स्थानीयता का निर्धारण ही नियोजन का आधार बने। खतियान आधारित स्थानीय नीति लागू करने के लिए आजसू पार्टी ने सबसे ज्यादा और सड़क से लेकर सदन तक संघर्ष किया। कहा कि दुःख की बात ये है कि सरकार के सेहत पर जब भी संकट आता है तब-तब इन्हें स्थानीयता की याद आती है। सरकार अगर सही नियत से स्थानीय नीति का निर्धारण करती है तो आजसू पार्टी इसका स्वागत करेगी। साथ ही उन्होंने सरकार से संवैधानिक संस्थाओं का सम्मान करने की बात भी कही।

ये रहे उपस्थित 

बैठक में मुख्य रुप से आजसू पार्टी के प्रधान महासचिव रामचंद्र सहिस, केंद्रीय महासचिव डॉ. लंबोदर महतो, केंद्रीय उपाध्यक्ष रोशन लाल चौधरी, उमाकांत रजक, हसन अंसारी, सपन सिंह देव तथा कुशवाहा शिवपूजन मेहता, केंद्रीय सचिव हरेलाल महतो, केंद्रीय मुख्य प्रवक्ता डॉ. देवशरण भगत, केंद्रीय प्रवक्ता मनोज सिंह, विधानसभा प्रभारी नीरू शांति भगत, शालिनी गुप्ता, यशोदा देवी, नंदलाल बिरुआ, रामदुर्लभ सिंह मुंडा, अनूप पांडेय, तिवारी महतो, रामधन बेदिया, अर्जुन बैठा, भरत कांशी साहू, वर्षा गाड़ी, जिला प्रभारी रविशंकर मौर्या, गोपीनाथ सिंह, लाल गुड्डू नाथ शाहदेव, अनुशासन समिति प्रमुख सुबोध प्रसाद, कार्यकारी जिलाध्यक्ष फणीभूषण महतो सहित सभी विधानसभा एवं जिला के प्रभारी मौजूद थे।

ये भी पढ़ें : निलंबित IAS पूजा सिंघल को HC से झटका, जमानत याचिका खारिज

Related posts

अब भी डरा रहे हैं कोरोना संक्रमण के आंकड़े, 36 हजार से अधिक नये मरीज, 540 की मौत

Pramod Kumar

Begusarai: गिट्टी की आड़ में ट्रक पर लाई जा रही थी विदेशी शराब, पुलिस ने पकड़ा, चालक और खलासी गिरफ्तार

Manoj Singh

CBSE 10th, 12th Term 2 Datesheet Released: 10वीं-12वीं बोर्ड एग्जाम की तारीख घोषित, यहां देखें Term- 2 की पूरी डेटशीट

Sumeet Roy